scriptRAJASTHAN RENEWABLE ENERGY CORPORATION GREEN HYDRO ENERGY | RAJASTHAN अब ग्रीन हाइड्रो एनर्जी की ओर बढ़ते कदम... | Patrika News

RAJASTHAN अब ग्रीन हाइड्रो एनर्जी की ओर बढ़ते कदम...

Rajasthan Renewable Energy Corporation प्रदेश में ग्रीन हाइड्रो एनर्जी को बढ़ावा दिया जाएगा। Green Hydro Energy के लिए हाइड्रो एनर्जी नीति बनाई जाएगी। राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम ने इसके लिए संभावना तलाशनी शुरू कर दी है। इसके लिए पश्चिमी राजस्थान व हाडौती में विपुल संभावनाएं बताई जा रही है। इसे लेकर बुधवार को एसीएस डॉ.सुबोध अग्रवाल अक्षय ऊर्जा निगम में उद्योग, डिस्काम्स, अक्षय ऊर्जा सहित संबंधित विभागों की बैठक ली।

जयपुर

Published: January 05, 2022 04:52:17 pm

Rajasthan Renewable Energy Corporation प्रदेश में ग्रीन हाइड्रो एनर्जी को बढ़ावा दिया जाएगा। Green Hydro Energy के लिए हाइड्रो एनर्जी नीति बनाई जाएगी। राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम ने इसके लिए संभावना तलाशनी शुरू कर दी है। इसके लिए पश्चिमी राजस्थान व हाडौती में विपुल संभावनाएं बताई जा रही है। इसे लेकर बुधवार को एसीएस डॉ.सुबोध अग्रवाल अक्षय ऊर्जा निगम में उद्योग, डिस्काम्स, अक्षय ऊर्जा सहित संबंधित विभागों की बैठक ली।
RAJASTHAN अब ग्रीन हाइड्रो एनर्जी की ओर बढ़ते कदम...
RAJASTHAN अब ग्रीन हाइड्रो एनर्जी की ओर बढ़ते कदम...
एसीएस डॉ. सुबोध अग्रवाल ने बताया है कि राज्य में फोसिल फ्यूल एनर्जी पर निर्भरता कम करने के साथ ही रिन्यूवल एनर्जी क्षेत्र में एक कदम और आगे बढ़ाते हुए ग्रीन हाईड्रो एनर्जी को बढ़ावा दिया जाएगा। इसके लिए प्रस्तावित नीति में इज ऑफ रेगुलेशन यानी की ऐसे उद्योगों की स्थापना को आसानी से स्थापित करने के प्रावधान किए जाएंगे ताकि देश दुनिया के निवेशक ग्रीन हाइड्रो एनर्जी के क्षेत्र में राजस्थान में निवेश के लिए प्रोत्साहित हो सके। ग्रीन हाइड्रो एनर्जी नीति के लिए राज्य सरकार स्तर पर अलग अलग विभागों की ओर से काम किया जा रहा है। अब एनर्जी विभाग की अेार से ठोस नीति तैयार की जाएगी।
एसीएस डॉ. अग्रवाल ने बताया कि राज्य में ग्रीन हाइड्रो को प्रमोट करने से रिन्यूवल एनर्जी से भी एक कदम आगे आ सकेगा। इस नीति से कार्बन फूट प्रिंट के प्रभाव में भी कमी लाने में सहायता मिलेगी। प्रदेश में इस तरह के प्लांट लगने से उद्योगों और अस्पतालों के लिए ऑक्सीजन भी विपुल मात्रा में सहज उपलब्ध होगी। बैठक में संयुक्त सचिव आलोक रंजन, डिस्काम्स, उद्योग व संबंधित विभागों के अधिकारी भी मौजूद रहे।
यहां तलाश रहे संभावाना...
एसीएस अग्रवाल ने बताया कि राजस्थान में ग्रीन हाइड्रो एनजी की विपुल संभावनाएं है। पश्चिमी राजस्थान के बाड़मेर, जैसलमेर, जोधपुर, बीकानेर आदि जिलों के साथ ही कोटा, बारां, बांसवाड़ा सहित अनेक जिलों में इस तरह के प्लांट लगाए जा सकते हैं।
ये भी होगा फायदा....
एसीएस डॉ. अग्रवाल ने बताया कि ग्रीन हाइड्रो प्लांटों पानी से इलेक्ट्रोलाइसिस करके हाईड्रोजन और ऑक्सीजन को अलग किया जाता है। इसके साथ ही इस नई तकनीक से फ्यूल सेल के साथ ही ऑक्सीजन, अमोनिया, नेचुरल गैस, केमिकल यूज, पेट्रोकेमिकल सहित अनेक बायोप्रोडक्टस का उत्पादन हो सकेगा। इसके साथ ही सोलर ऊर्जा को स्टोरेज कर यूज करने की तकनीक भी विकसित हो सकेगी। राजस्थान मेें इसकी विपुल संभावनाओं को देखते हुए ग्रीन हाईड्रो नीति में इस तरह के प्लांटों को बढ़ावा देने के प्रावधान किए जाएंगे।
बनाई कोर ग्रुप कमेटी...
संयुक्त सचिव एनर्जी आलोक रंजन की अध्यक्षता में एक कोर ग्रुप गठित किया गया है, जिसमें केपी वर्मा निदेशक तकनीकी जेवीवीएनएल, सीसीएओ जेवीवीएनएल एके जोशी, अक्षय ऊर्जा के निदेशक ऑपरेशन नरेन्द्र सुवालका, पवन तंवर, उद्योग विभाग के पीआर शर्मा, अक्षय ऊर्जा निगम के महाप्रबंधक सुनित माथुर आदि को शामिल किया गया है। यह कोर ग्रुप निजी क्षेत्र की ग्रीनको, एक्नो, रिन्यू एनर्जी आदि के प्रतिनिधियों को भी आमंत्रित के रुप में बुलाकर चर्चा करेगा। इससे राज्य की यह नीति देश की अग्रणी नीति बन सके।
ये करेगा कोर ग्रुप....
एसीएस अग्रवाल ने बताया कि केन्द्र सरकार की इस संबंध में जारी होने वाली नीति के आने के बाद उनके प्रमुख बिंदुओं का भी अध्ययन कर दस से पन्द्रह दिन में राज्य की नीति जारी हो सके। कोर ग्रुप ओपन एक्सेस, एनर्जी बैकिंग और कॉन्ट्रेक्ट के संबंध में भी स्पष्ट और व्यावहारिक प्रस्ताव प्रस्तुत करेगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: आज इंडिया गेट पर सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम प्रतिमा का PM Modi करेंगे लोकार्पणदिल्ली में जनवरी में बारिश का पिछले 32 साल का रिकॉर्ड ध्वस्त, ठंड से छूटी कंपकंपी, एयर क्वालिटी में सुधारCovid-19 Update: भारत में कोरोना के 3.37 लाख नए मामले, मौत के आंकड़ों ने तोड़े सारे रिकॉर्डUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारU19 World Cup: कौन है 19 साल का लड़का Raj Bawa? जिसने शिखर धवन को पछाड़ रचा इतिहासAjmer Urs : 1 फरवरी को उतरेगा संदल, 2 को खुलेगा जन्नती दरवाजाUP Top News: उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा विभाग शिक्षक पात्रता परीक्षा आज, दो पालियों में परीक्षासरदार पटेल के बाद बीजेपी का फोकस अब सुभाषचंद BOSE पर, मनाएंगे पराक्रम दिवस
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.