राजस्थान के 12 जिलों में तापमान 10 डिग्री से नीचे, फतेहपुर 1.5 डिग्री, खेतों में बर्फ जमना शुरू, सर्दी से एक मौत

राजस्थान में दिसंबर के पहले सप्ताह सर्दी ने दिखाया रंग, 12 जगहों पर न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे, धोरों में जमी बर्फ

जयपुर। प्रदेश में लगातार सर्दी असर दिखा रही है। दिसम्बर माह के पहले सप्ताह में ही तापमान में दिनों-दिन गिरावट हो रही है। उत्तरी हवाओं के कारण न्यूनतम तापमान लगातार गिर रहा है। प्रदेश में 12 जगहों पर न्यूनतम पारा 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज किया गया है। फतेहपुर में सबसे कम न्यूनतम तापमान 1.5 डिग्री पर आ गया। इससे सुबह खेतों में बर्फ जम गई। वहीं रींगस में सीकर से एक व्यक्ति की मौत हो गई। इतना ही नहीं वाहनों की सीट पर भी बर्फ की हल्की चादर बिछी नजर आई। इधर मंगलवार को प्रदेश में छह जगहों पर पारा 10 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज किया गया है। मौसम विभाग के अनुसार हिमालय के तराई क्षेत्र में बर्फबारी से शीतलहर प्रदेश तक आ रही हैं।

यहां तापमान 10 से नीचे
भीलवाड़ा 7.6, वनस्थली 8.7, अलवर 6.0, जयपुर 9.3, पिलानी 7.3, सीकर 5.0, चित्तौडगढ़ 9.5, एरिन रोड 9.0, माउंट आबू 5.4, बीकानेर 9.0, चूरू 6.2

सर्दी से बुजुर्ग की मौत!

रींगस कस्बे के रेलवे फाटक संख्या 108 के पास सोमवार रात सर्दी से एक बुजुर्ग की मौत हो गई। पुलिस के अनुसार एक बुुजुर्ग रात में फाटक के पास पुल के नीचे खुले मे सो रहा था। सुबह वह मृत मिला। मृतक की शिनाख्त नहीं हो पाई। पुलिस ने सर्दी से मौत की संभावना जताई है।

किसान हुए चिंतित
उत्तर भारत के मौसम में बदलाव होने के तीन से चार दिन बाद शेखावाटी अंचल प्रभावित होता है। किसानों की माने तो इस समय सरसों में बढ़वार चल रही हैं। इसके अलावा चना, गेंहू, जौ सहित उद्यानिकी फसलें बढ़वार की अवस्था में है। फसलों में रोग-कीट का प्रकोप चल रहा है। नुकसान से बचने के लिए किसान फसलों की सिंचाई कर रहे हैं। मौसम विभाग का कहना है कि हिमालय के तराई क्षेत्र में बर्फबारी के बाद चल शीतलहर का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। इन सर्द हवाओं के कारण ही तापमान गया है और सर्दी बढ़ी है। फिलहाल सर्द हवाओं की गति रुकने की संभावना नहीं है। हवाएं रूकने के बाद ही सर्दी का असर कम होगा।

Show More
pushpendra shekhawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned