टीम का मैनेजर या कोच साथ नहीं तो राजस्थान विश्वविद्यालय की अंतर महाविद्यालय से बाहर हो जाएगा खिलाड़ी

एथलेटिक्स प्रतियोगिता को लेकर विश्वविद्यालय ने बनाए नियम

HIMANSHU SHARMA

October, 1410:34 AM

Jaipur, Rajasthan, India



जयपुर
राजस्थान विश्वविद्यालय अंतर महाविद्यालय एथेलेटिक्स प्रतियोगिता को लेकर विश्वविद्यालय ने अजीबो गरीब नियम बनाए है। जिसके तहत प्रतियोगिता में भाग लेने वाले खिलाड़ियों के साथ अगर उनका कोच या टीम मैनेजर साथ नहीं होगा तो उस खिलाड़ी या टीम को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया जाएगा। प्रतियोगिता शुरू होने से एक दिन पहले विश्वविद्यालय के शारीरिक शिक्षा विभाग में बैठक होगी। जिसमें उस बैठक में टीम के मैनेजर या कोच को शामिल होना होगा। शारीरिक शिक्षा विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ.अभय उपध्यक्ष ने सभी टीमों को स्पष्ट किया है कि बैठक में शामिल नहीं होने वाले मैनेजर या कोच की संबंधित टीम को टूर्नामेंट से नियमानुसार हिस्सा लेने से वंचित कर दिया जाएगा। ऐसे में अब अगर कोई भी टीम के साथ में मैनेजर नहीं हुआ तो खिलाड़ी टूर्नामेंट में भाग नहीं सकेगा। क्योकि विश्वविद्यालय ने नियम टूर्नामेंट में भाग लेने के लिए महाविद्यालयों की टीमों की एंट्री तो ले ली लेकिन यह भी नियम बना दिया कि प्रत्येक टीम के साथ मैनेजर प्रशिक्षक का होना अनिवार्य हैं। यह नहीं होते है तो उस खिलाड़ी या टीम को टूर्नामेंट में सम्मिलित नहीं किया जाएगा। टूर्नामेंट शुरू होने से पहले टीमों की एसेम्बली होगी। जिसमें महाविद्यालय की टीमों को अपने ध्वज के साथ आना होगा। कोच व मैनेजर के टीम के साथ उपस्थित होने के पीछे विश्वविद्यालय अनुशासन जो जोड़ रहा हैं। क्योकि विश्वविद्यालय का मानना है कि अगर टीम के साथ मैनेजर रहेंगे तो खिलाड़ी अनुशासित रहेंगे और किसी भी विवाद से निपटा जा सकेगा। साथ ही टूर्नामेंट के किसी भी निर्णय पर आपत्ति होने पर उस पर निर्णय लेने में आसानी होगी।

HIMANSHU SHARMA
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned