RU: परीक्षा से पहले अब नहीं होगी ये 'परीक्षा', डेढ़ लाख से ज्यादा परीक्षार्थियों को राहत...

By: Arvind Palawat

Published: 02 Feb 2020, 08:33 PM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India
1/2

जयपुर। राजस्थान विश्वविद्यालय ने प्राइवेट परीक्षा देने वाले लाखों परीक्षार्थियों को बड़ी राहत दी है। इन परीक्षार्थियों को अब दूरदराज के सेंटर्स पर जाकर परीक्षा नहीं देनी पड़ेगी। बल्कि, उनके नजदीकी कॉलेज में ही परीक्षा देने का मौका मिल सकेगा। विश्वविद्यालय प्रशासन के इस फैसले से करीब डेढ़ लाख से ज्यादा प्राइवेट परीक्षार्थियों को सुविधा होगी। गौरतलब है कि राजस्थान यूनिवर्सिटी प्रशासन की परीक्षाएं 19 फरवरी से शुरू होने जा रही है। परीक्षा का टाइम टेबल जारी कर दिया गया है।

एल्फाबेट से नहीं आएगा सेंटर
दरअसल, पहले प्राइवेट परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र का आवंटन उनके नाम के पहले अक्षर के अनुसार होता था। जिसके कारण स्टूडेंट्स के शहरी क्षेत्र में परीक्षा केंद्र 30-35 किलोमीटर दूर आया करते थे। वहीं, ग्रामीण इलाकों के परीक्षार्थियों को 50-50 किलोमीटर दूर जाकर परीक्षा देनी पड़ती थी। जिसके कारण परीक्षा से ठीक पहले ही उनकी 'परीक्षा' हो जाती थी। लेकिन अब एल्फाबेट के आधार पर परीक्षा केंद्र नहीं आएगा।

फॉर्म में भरवाया था क्षेत्र
इस बार जब स्नातक और स्नातकोत्तर के परीक्षा फॉर्म भरवाए गए तो परीक्षार्थियों से उनका इलाका पूछा गया था। अब परीक्षा केंद्रों के आवंटन उसी क्षेत्र या इलाके में किया जाएगा। जैसे यदि कोई परीक्षार्थी मुरलीपुरा का रहने वाला है तो उसे परीक्षा केंद्र मुरलीपुरा या सीकर रोड के आसपास के कॉलेज में ही दिया जाएगा।

इनका कहना है:
पहले यह देखने में आता था कि एल्फाबेट के कारण आवंटित होने पर किसी परीक्षार्थी को तो सेंटर उसके घर के नजदीक ही मिल जाता था। जबकि किसी परीक्षार्थी का केंद्र बहुत दूर आता था। ऐसे में परीक्षार्थी बेवजह परेशान होते थे। इसलिए इस बार ऐसी व्यवस्था की गई है कि परीक्षार्थी का सेंटर उसके घर से 4-5 किलोमीटर की परिधी में स्थित कॉलेज में ही आएगा।
वीके गुप्ता, परीक्षा नियंत्रक, राजस्थान यूनिवर्सिटी

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned