छात्रसंघ चुनाव तक पुलिस के पहरे में रहेगा राजस्थान विश्वविद्यालय

विश्वविद्यालय प्रशासन की मांग पर लगाएं 25 जवान

By: HIMANSHU SHARMA

Published: 24 Jul 2018, 01:02 PM IST

जयपुर

राजस्थान विश्वविद्यालय परिसर छात्रसंघ चुनावों के रंग में रंगने लगे है। इसी को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन ने कैंपस की सुरक्षा भी बढ़ा दी है। जिसके चलते अब छात्रसंघ चुनावों तक विश्वविद्यालय परिसर पुलिस के पहरे में रहेगा। विश्वविद्यालय प्रशासन की मांग पर अब 25 पुलिसकर्मी छात्रसंघ चुनाव तक विश्वविद्यालय परिसर में मौजूद रहेंगे। विश्वविद्यालय में छात्रसंघ चुनावों मेें छात्रनेताओं की आपस में उलझने की स्थिति को देखते हुए और विद्यार्थियों की सुरक्षा बढ़ाने के उदृेश्य से यह पुलिस जाब्ता लगाया गया है।
विश्वविद्यालय प्रशासन ने लिखा था पुलिस को पत्र
छात्रसंघ चुनावों को लेकर राजस्थान विश्वविद्यालय परिसर में छात्रनेताओं ने दमखम लगाना शुरू कर दिया है। इसी को लेकर अपनी प्रतिद्वंदी को लेकर छात्रनेताओं में आपसी रंजिश भी सामने आने लगी है। जिसका नतीजा है कि गत एक माह में ही छात्रनेताओं की आपसी रंजिश को लेकर करीब चार ऐसे मामले सामने आ चुके है जिसमें नेताओं के गुट ने एक दूसरे पर हमले किए हो। इसी को लेकर विश्वविद्यालय प्रशासन पुलिस प्रशासन को पत्र लिख की सुरक्षा मांगी थी। जिसके बाद विश्वविद्यालय परिसर में 25 जवान तैनात किए गए है। यह सब गांधीनगर थाने की देखरेख में काम करेंगे जो विश्वविद्यालय परिसर के साथ ही संघटक् महाविद्यालय राजस्थान और कॉमर्स में सुरक्षा व्यवस्था संभालेंगे।

अतिरिक्त जाब्ता भी आता है जरूरत पर
राजस्थान विश्वविद्यालय परिसर में जरूरत होने पर पुलिस का अतिरिक्त जाब्ता भी आता हैं। किसी भी छात्र संगठन का धरना प्रदर्शन होने पर विश्वविद्यालय के प्रोक्टर बोर्ड की ओर से पुलिस प्रशासन से अधिक पुलिस बल मांगा जाता है। जिसके चलते धरने प्रदर्शन में आने वाले समर्थकों की तय संख्या के आधार पर पुलिसकर्मियों की डयूटी लगाई जाती हैं। लेकिन धरना प्रदर्शन हो या नहीं हो विश्वविद्यालय में चुनाव तक 25 जवान हर समय तैनात रहेंगे। इसके साथ ही जब छात्रसंघ चुनावों की तिथि घोषित हो जाएगी और आचार संहित लागू हो जाएगी उसके बाद इस पुलिस बल को बढ़ा दिया जाएगा।

HIMANSHU SHARMA
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned