राजस्थान विधानसभा: फिर शोर-शराबा.. हंगामा... और कार्यवाही स्थगित, घिरा रहा सत्तापक्ष

राजस्थान विधानसभा: फिर शोर-शराबा.. हंगामा... और कार्यवाही स्थगित, घिरा रहा सत्तापक्ष

Nakul Devarshi | Publish: Sep, 07 2018 12:32:33 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर।

राजस्थान विधानसभा के मानसून सत्र में शुक्रवार को दूसरा दिन प्रश्नकाल भी विपक्ष के शोर शराबे और हंगामे के कारण स्थगित कर दिया गया। विधानसभा में प्रश्नकाल शुरू होते ही नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने महंगाई का मुद्दा उठा दिया। डूडी ने कहा कि देश में लगातार पेट्रोल डीजल की कीमतों में हो रही बढ़ोतरी से आम आदमी परेशान है। पहले इस पर चर्चा की जाए।

 

इधर, नेता प्रतिपक्ष द्वारा यह मुद्दा उठाते ही सत्ता पक्ष की ओर से संसदीय कार्यमंत्री राजेन्द्र राठौड़, सरकारी सचेतक कालू लाल गुर्जर और मदन राठौड़ सहित अनेक सदस्य इसका विरोध करने लगे। सत्ता पक्ष द्वारा किए जा रहे विरोध के बीच ही कांग्रेस के सचेतक गोविंद डोटासरा, शकुंतला रावत, सोना देवी, श्रवण कुमार, घीरज गुर्जर, भजनलाल जाटव सहित अनेक सदस्य वैल में आ गए और सरकार की महंगाई विरोधी नीतियों के खिलाफ नारे लगाने लगे।

 

ऐसे हंगामे की भेंट चढ़ा प्रश्नकाल
राजस्थान विधान सभा के मानसून सत्र के आखिरी दिन के प्रश्नकाल की कार्यवाही हंगामे की भेंट चढ गई। प्रश्नकाल शुरू होते ही पहला प्रश्न निर्दलीय विधायक नंदकिशोर महरिया का चिकित्सा सेवाओं से जुडा था। जैसे ही उन्होंने प्रश्न पढना शुरू किया प्रतिपक्ष की ओर से मंहगाई और भ्रष्टाचार के मुददे पर जोरदार हंगामा बरपा। नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी कांग्रेस विधायक दल के सचेतक गोविंद सिंह डोटासरा सहित विपक्ष के विधायकों ने वैल में आकर जोरदार नारेबाजी की और सत्ता पक्ष को घेरा।


गृह मंत्री गुलाब चंद कटारिया ने इस पर कहा कि कांग्रेस प्रस्ताव लेकर आए तो हम जवाब देंगे। लेकिन जिस तरह से प्रश्नकाल को बेहरमी से नष्ट किया गया उसके लिए इतिहास कभी माफ नहीं करेगा।

 

वैल में सभी कांग्रेसी विधायक हंगामा करते रहे। इस पर उच्च शिक्षा मंत्री किरण महोश्वरी ने कहा कि आपने सवाल लगाया है तो जवाब भी सुनो क्योंकि आप जनता के लिए आए है तो जनता के लिए ही सुनो। सदन का अमूल्य समय बर्बाद कर दिया गया है। जनता का समर्थन इन्हें भी नहीं मिलना चाहिए। वहीं संसदीय कार्य मंत्री राजेन्द राठौड ने कहा कि जिस कुर्सी पर आप बैठे हैं उस पर कभी भैरोसिंह शेखावत बैठा करते थे। क्यों राजस्थान को शर्मशास कर रहे हैं और कांग्रेसी क्यों घडियाली आंसू बहा रहे हैं।

 

लाठीचार्ज पर भी दिखा रोष
गुरुवार को हुए प्रदर्शन में कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुलिस लाठीचार्ज को लेकर भी कांग्रेसी विधायकों ने सदन में हंगामा किया। नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी ने कहा कि सरकार आम जनता की आवाज को दबाने का काम कर रही है। ये स्थिति लोकतंत्र के लिए खतरनाक है। आने वाले दिनों में जनता इन्हें जवाब देगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned