विधायक की अजीब मांग, देशी शराब की 8 से 10 बोतल घर में रखने की मुख्यमंत्री से मांगी इजाजत

राजस्थान विधानसभा में बजट पर चर्चा के दौरान कांग्रेस विधायक गणेश घोघरा ने रखी मांग, बजट को लेकर मुख्यमंत्री की सम्राट अशोक से कर दी तुलना

By: pushpendra shekhawat

Published: 01 Mar 2021, 08:28 PM IST

जयपुर। कांग्रेस विधायक गणेश घोघरा ने राज्य सरकार के बजट को ऐतिहासिक बताते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की तुलना सम्राट अशोक से कर दी। उन्होंने मुख्यमंत्री को महान बताने के साथ ही आदिवासी क्षेत्रों में अंग्रेजी शराब की दुकानें बंद करने और आदिवासियों को परंपरागत देशी शराब महुआ की 8 से 10 बोतलें घर में रखने की इजाजत देने की मांग कर दी। वे सोमवार को विधानसभा में बजट पर चर्चा के दौरान बोल रहे थे। घोघरा युवा कांग्रेस के भी प्रदेश अध्यक्ष हैं। उन्हें हाल ही राज्य के सियासी संग्राम के दौरान अध्यक्ष बनाया गया था।

घोघरा ने कहा कि आदिवासी क्षेत्रों में शराब दुकान आवंटन में आदिवासियों को सौ फीसदी आरक्षण दिया जाए या फिर दुकानें बंद कर दी जाएं। क्योंकि आदिवासी बदनाम हो रहे हैं और अंग्रेजी शराब गुजरात के लोग पी रहे हैं। अंग्रेजी शराब से हमारी आर्थिक स्थिति भी कमजोर हो रही है। आदिवासी 1000 रुपए की बोतल कैसे खरीदेगा।

आदिवासी क्षेत्रों में हमारे यहां परंपरा और संस्कृति है, किसी वार-त्यौहार, मौत मरण पर पूर्वजों को धार चढ़ाते हैं। वह हमारे देसी महुआ होती है। जो फूल से बनाई जाती है। उसे हम पूजा अर्चना में चढ़ाते हैं। लेकिन पुलिस वाले घर में एक या दो बोतल मिल जाए तो उस पर 8 बोतल का झूठा मुकदमा बनाते हैं। ऐसे में हमारी संस्कृति और परंपरा को देखते हुए 8 से 10 बोतल देशी महुआ आदिवासियों को रखने का अधिकार दिया जाए।

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned