कड़ाके की सर्दी का सितम जारी, माउंटआबू में पारा आज भी माइनस में दर्ज

जयपुर समेत प्रदेशभर में कड़ाके की सर्दी का दौर जारी है। शीतलहर, कोहरे के बीच लगातार तापमान में गिरावट के साथ ही ठंड से आमजन के हाल बेहाल हैं।

By: santosh

Published: 13 Jan 2021, 08:35 AM IST

जयपुर. जयपुर समेत प्रदेशभर में कड़ाके की सर्दी का दौर जारी है। शीतलहर, कोहरे के बीच लगातार तापमान में गिरावट के साथ ही ठंड से आमजन के हाल बेहाल हैं। बीती रात मंगलवार को माउंटआबू सहित जोबनेर, फतेहपुर सहित अन्य जगहों पर पारा जमाव बिंदु के नजदीक दर्ज किया गया। मौसम विभाग ने आगामी कुछ दिन ओर राज्य के कई हिस्सों में तेज शीतलहर चलने और पारे में चार डिग्री तक की गिरावट होने का अलर्ट जारी किया है। माउंट आबू में न्यूनतम तापमान शून्य से दो डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया।

बीती रात को प्रदेश में सीकर, चूरू,फलौदी, जोबनेर, भीलवाड़ा, पिलानी, अजमेर में पारा पांच डिग्री से कम दर्ज किया गया। अन्य जगहों पर भी पारा सात से दस डिग्री के बीच दर्ज किया गया। बीते दिन मंगलवार को जयपुर में दिन में अच्छी धूप खिली और यहां न्यूनतम तापमान 7.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम केंद्र जयपुर के अनुसार प्रदेश के अनेक हिस्सों में सर्दी का जोर अभी जारी रहेगा।

शीतलहर चलने का पूर्वानुमान
शुक्रवार तक जयपुर, बीकानेर संभाग के जिलों में कहीं-कहीं तेज शीतलहर चलने की संभावना है, जबकि इस दौरान राज्य के चूरू, सीकर, झुंझुनू और अलवर जिले में न्यूनतम तापमान दो से चार डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज होने का अनुमान है। इसके लिए मौसम विभाग ने यलो अलर्ट भी जारी किया है।

फतेहपुर का पारा माइनस 1 डिग्री
बुधवार सुबह जयपुर का तापमान 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हालांकि मौसम साफ रहा, ठंडी हवाओं का दौर जारी रहा। वहीं सीकर में लगातार तेज ठंड का असर हावी हो रहा है। लगातार तीसरे दिन यहां फतेहपुर में बीती रात का न्यूनतम तापमान माइनस 1 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं जोबनेर में पारा 0.5 डिग्री दर्ज किया गया। जिससे फसलों पर ओस, हल्की बर्फ की परत जम गई। वहीं आमजन को सर्दी से बचने के लिए हीटर, अलाव का सहारा लेना पड़ा। माउंटआबू में पारा माइनस दो डिग्री के करीब दर्ज किया गया।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned