scriptrajasthan weather forecast august 14 | राजस्थान में छह दिन छिटपुट, फिर भारी बारिश का दौर | Patrika News

राजस्थान में छह दिन छिटपुट, फिर भारी बारिश का दौर

राजस्थान में मानसून की गतिविधियां धीमी पड़ने के बाद दूसरे दौर की बारिश का इंतजार तेज हो गया है। अगले छह दिन तक राजस्थान में छिटपुट बारिश की संभावना जताई जा रही है और उसके बाद भारी बारिश का दौर शुरू होगा।

जयपुर

Published: August 14, 2021 11:48:57 am

जयपुर। राजस्थान में मानसून की गतिविधियां धीमी पड़ने के बाद दूसरे दौर की बारिश का इंतजार तेज हो गया है। अगले छह दिन तक राजस्थान में छिटपुट बारिश की संभावना जताई जा रही है और उसके बाद भारी बारिश का दौर शुरू होगा। मौसम विभाग ने शनिवार को फिर से दौहराया है कि बंगाल की खाड़ी में 17 व 18 के बीच कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है, जिसके चलते 20 या 21 अगस्त को राजस्थान में बारिश का सिलसिला फिर से शुरू होगा। इस बार भी बारिश का जोर पूर्वी राजस्थान पर ही रहेगा। इस बार भी राजस्थान के कुछ इलाकों में भारी बारिश होगी।

Heavy Rain In Jhalawar
Heavy Rain In Jhalawar

पश्चिमी राजस्थान में भारी कमी

मौसम विभाग की माने तो राजस्थान में सामान्य से आठ प्रतिशत बारिश ज्यादा दर्ज हुई है। यदि पूर्वी और पश्चिमी राजस्थान की बात की जाए तो पश्चिमी राजस्थान में अब तक मानसून की बेरूखी चल रही है। तभी तो पूर्वी राजस्थान में सामान्य से 20 प्रतिशत बारिश अधिक दर्ज की गई है जबकि पश्चिमी राजस्थान में सामान्य से भी 11 प्रतिशत कम बारिश हुई है। ऐसे में दूसरे दौर की बारिश पश्चिमी राजस्थान को भी तरबतर करे तब जाकर कई जिलों में बारिश की आस पूरी हो सकेगी। मौसम केन्द्र जयपुर के निदेशक आर.एस. शर्मा का कहना है कि दूसरे दौर में पश्चिमी राजस्थान में भी बारिश होगी, लेकिन कुछ जिलों पर ही असर दिखाई देगा।

इन जिलों को बारिश का इंतजार
सम्पूर्ण राजस्थान में मानसून झाया, लेकिन मेहर पूर्वी राजस्थान पर ज्यादा बरसी। पश्चिमी राजस्थान बारिश का इंतजार ही करता रहा। बीकानेर, जोधपुर, जालौर, नागौर, बाड़मेर, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, जैसलमेर, सिरोही और उदयपुर में बारिश असर नहीं दिखा सकी है। कई बार काले बादल झाए, लेकिन आस अधूरी ही रही। अब दूसरे दौर पर उम्मीद टिकी है।

तापमान दिखा रहा असर
राजस्थान में तापमान की बात की जाए तो गंगानगर शीर्ष पर चल रहा है। बड़ा कारण यह भी है कि यहां बारिश का आंकड़ा बेहद कम रहा है। गंगानगर में सामान्य बारिश का आंकड़ा 137.4 एमएम है, जबकि यहां अब तक सबसे अधिक बारिश रायसिहंनगर तहसील में 118.4 एमएम दर्ज की गई है, जो सामान्य बारिश से भी काफी कम है। अन्य तहसीलों की बात करें तो गंगानगर (आईएमडी) में 100.6 एमएम, अनूपगढ़ तहसील में 52 एमएम, श्रीगंगानगर तहसील में 105 एमएम, घड़साना में 64.2, श्रीकरणपुर में 93 एमएम, पदमपुर में 114 एमएम, रावला में 25 एमएम, सादुलशहर में 16 एमएम, श्रीविजयनगर में 59 एमएम और सूरतगढ़ तहसील में मात्र 79 एमएम बारिश दर्ज की गई है। उधर, गंगानगर में तापमान कई दिनों से 40 डिग्री पर बना हुआ है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Numerology: कम उम्र में ही अच्छी सफलता हासिल कर लेते हैं इन 3 तारीखों में जन्मे लोगहो जाइये तैयार! आ रही हैं Tata की ये 3 सस्ती इलेक्ट्रिक कारें, शानदार रेंज के साथ कीमत होगी 10 लाख से कमइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजमां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतShani: मिथुन, तुला और धनु वालों को कब मिलेगी शनि के दशा से मुक्ति, जानिए डेटइन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीweather update: राजस्थान के इन जिलों में हुई बारिश, जानें आगे कैसा रहेगा मौसमतत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal Loan

बड़ी खबरें

भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन स्टेज पर पहुंचा ओमिक्रॉन वेरिएंट - केंद्र सरकारUP Assembly Elections 2022 : पलायन और अपराध खत्म अब कानून का राज,चुनाव बदलेगा देश का भाग्य - गृहमंत्री शाहराजपथ पर पहली बार 75 एयरक्राफ्ट और 17 जगुआर का शौर्य प्रदर्शन, देखें फुल ड्रेस रिहर्सल का वीडियोहेट स्पीच को लेकर हिन्दू संगठन पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, कहा-मुस्लिम नेताओं की भी हो गिरफ्तारीPriyanka Chopra Surrogacy baby: तस्लीमा ने वेश्यावृत्ति, बुरका से की सरोगेसी की तुलनाकैप्टन अमरिंदर सिंह ने जारी की उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, जानें किस सीट से लड़ेंगे चुनाव5 मैच 4 शतक 603 रन फिर भी प्लेइंग XI से बाहर रुतुराज गायकवाड़, केएल राहुल हुए जमकर ट्रोलशिक्षकों ने टूरिस्ट प्लेस सा बना दिया सरकारी स्कूल, फर्राटेदार अंग्रेजी बोलते हैं बच्चे
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.