Rajasthan Weather: माउंट आबू व फतेहपुर फिर माइनस में, दो दिन बाद बदलेगा मौसम

प्रदेश में इन दिनों रात के समय कड़ाके की सर्दी पड़ रही है। वहीं दिन के समय हल्की गर्माहट का अहसास भी हो रहा है। प्रदेश के ज्यादातर जिलों में दिन और रात के तापमान में काफी अंतर है।

By: kamlesh

Published: 30 Jan 2021, 07:31 PM IST

जयपुर। प्रदेश में इन दिनों रात के समय कड़ाके की सर्दी पड़ रही है। वहीं दिन के समय हल्की गर्माहट का अहसास भी हो रहा है। प्रदेश के ज्यादातर जिलों में दिन और रात के तापमान में काफी अंतर है। दिन में जहां कुछ देर में धूप में रहने के बाद गर्मी का अहसास होने लगता है वहीं रात में लबादे, रजाइयां भी कम ही पड़ रही हैं। मौसम विभाग ने इस अंतर का कारण बताया है पश्चिमी विक्षोभ का सक्रिय होना।

जनवरी माह के अंत के साथ ही अब मौसम में ट्रांजेक्शन का फेज शुरू हो गया है। यानी की गर्मी के मौसम की आहट। दिन के समय तापमान सामान्य है मगर रात में सामान्य से 5-6 डिग्री तापमान कम चल रहा है। राजस्थान में हिमालय से ठंड़ी हवाएं आ रही हैं, इसीलिए शीतलहर चल रही है। हालांकि, अगले 24 घंटे के बाद रात की सर्दी से भी निजात मिलना शुरू हो जाएगी। एक फरवरी से शीतलहर का दौर भी खत्म होने की संभावना है।

माउंट आबू व फतेहपुर फिर माइनस में
माउंट आबू व फतेहपुर में लगातार पांचवे दिन शनिवार को भी न्यूनतम तापमान माइनस में रहा। शुक्रवार के मुकाबले न्यूनतम तापमान में 2.4 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होने से तापमापी का पारा जमाव बिंदु से (-2.2) डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं फतेहपुर में न्यूनतम तापमान माइनस 1.2 डिग्री दर्ज हुआ। फतेहपुर कृषि अनुसंधान केन्द्र के मौसम विशेषज्ञ ओपी कालश ने बताया कि केन्द्र के रेकार्ड के अनुसार वर्ष 2012 में 29 से एक फरवरी तक न्यूनतम तापमान माइनस में रहा था। 2019 में 26 से लेकर 29 जनवरी तक लगातार चार दिन तक न्यूनतम पारा जमाव बिंदु से नीचे रहा।

केंद्र पर उपलब्ध रेकार्ड के अनुसार ऐसा पहली बार है जब लगातार पांच दिन तक तापमान माइनस में रहा हो। केन्द्र पर जनवरी माह में सबसे कम पारा माइनस 3.4 डिग्री 28 जनवरी 2019 को रहा था। 2020 में 27 और 28 जनवरी को न्यूनतम तापमान क्रमश: 13.5 डिग्री और 9.5 डिग्री रहा था। 2021 में लगातार पांच दिन तक तापमान जमाव बिन्दु से नीचे रहा है। वर्ष 2016, 2017, 2018 में न्यूनतम पारा जमाव बिन्दु से ऊपर ही दर्ज की किया गया था।

दो दिन बाद बदलेगा मौसम
स्काईमेट वेदर रिपोर्ट के अनुसार राजस्थान में दो दिन बाद मौसम बदलने की संभावना है। रिपोर्ट के अनुसार एक फरवरी से नया पश्चिम विक्षोभ सक्रिय होगा। जिसके कारण सर्द हवाओं से अंचल को कुछ राहत मिल सकती है। एक फरवरी के आसपास एक नया पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत के पहाड़ों पर दस्तक दे सकता है। जिसके चलते उत्तर भारत के पर्वतीय क्षेत्रों से आने वाली सर्द हवाओं की रफ्तार मंद पड़ जाएगी।

पहाड़ों पर बारिश और बर्फबारी 1 से 3 फरवरी के बीच होगी। मौसम केंद्र जयपुर के निदेशक आर.एस. शर्मा के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव प्रदेश में 4-5 फरवरी को देखने को मिल सकता है। बादल छाने के साथ-साथ उत्तरी राजस्थान में हल्की बारिश की भी संभावना है।

Weather forecast

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned