scriptrajasthan weather today 15 january 2022 | VIDEO: राजस्थान में रेकाॅर्ड तोड़ सर्दी, यहां सातवें दिन भी माइनस में तापमान, शीतहलहर में जकड़ा रहेगा राजस्थान | Patrika News

VIDEO: राजस्थान में रेकाॅर्ड तोड़ सर्दी, यहां सातवें दिन भी माइनस में तापमान, शीतहलहर में जकड़ा रहेगा राजस्थान

शीतलहर से जकड़े राजस्थान में जनवरी में रेकाॅर्ड तोड़ सर्दी पड़ रही है। तभी तो प्रदेश के एकमात्र हिल स्टेशन माउंटआबू में पारा लगातार सातवें दिन माइनस में दर्ज किया गया है।

जयपुर

Updated: January 15, 2022 01:51:23 pm

जयपुर। शीतलहर से जकड़े राजस्थान में जनवरी में रेकाॅर्ड तोड़ सर्दी पड़ रही है। तभी तो प्रदेश के एकमात्र हिल स्टेशन माउंटआबू में पारा लगातार सातवें दिन माइनस में दर्ज किया गया है। माउंट आबू में बीती रात का पारा माइनस तीन डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं, फसलों से लेकर अन्य जगहों पर जमीं बर्फ की परत जमी मिल रही है। उधर, प्रदेश में शीतलहर का असर जारी रहने से जनजीवन काफी अस्त-व्यस्त हो रहा है। मौसम विभाग की माने तो राजस्थान में शनिवार को कुछ इलाकों में घना कोहरा और शीतलहर का असर रहेगा।

Weather News

माउंड आबू की बात करें तो यहां पिछले 11 साल की सर्दी का रेकाॅर्ड टूटा है। पिछले कई दिनों से तापमान माइनस में चलते हुए माइनस 5 डिग्री तक पहुंच गया। मौसम विभाग की माने तो माउंट आबू में वर्ष 2011 की तीन जनवरी को तापमान माइनस 5.4 डिग्री दर्ज किया गया था। उसके बाद 2022 की 14 जनवरी को तापमान माइनस 5 डिग्री दर्ज किया गया है। ऐसे में तापमान ने पिछले 11 साल का रेकाॅर्ड तोड़ा है। उधर, जयपुर के जोबनेर का पारा भी जमाव बिंदु के नजदीक पहुंच गया है और तापमान 1.5 डिग्री दर्ज किया गयाा है। राजस्थान के अन्य शहरों की बात करें तो सभी का न्यूनतम तापमान 10 डिग्री से नीचे आ गया है। इसमें भी 13 जगह तापमान 5 डिग्री से नीचे दर्ज किया गयाा है। मौसम विभाग में प्रदेश में शीतलहर का यलो अर्लट जारी किया है।

दर्जनभर शहरों मेे कोहरा और शीतलहर
मौसम विभाग की माने तो शनिवार को अलवर, भरतपुर, दौसा, धोलपुर, झुंझुनूं, सीकर, जयपुर, हनुमानगढ़, श्रीगंगानगर में कहीं कोहरा छाया रहा। वहीं, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, करौली, सीकर, चूरू और बीकानेर में शीतलहर का जोर रहेगा। मौसम विभाग की माने तो रविवार से मौमस शुष्क हो सकता है। ऐसे शीतलहर से थोड़ी राहत मिलने के आसार हैं।

बिगड़ा जयपुर का वायु प्रदूषण स्तर
राजधानी जयपुर समेत प्रदेशभर में तेज सर्दी, तापमान में कमी और मौसम साफ रहने के बावजूद नए साल में भी जयपुर की आबोहवा में कई बदलाव देखने को मिल रहे हैं। बीते दिन शुक्रवार को जयपुर में हुई पतंगबाजी से जयपुर के वायु प्रदूषण का स्तर 20 से 25 प्रतिशत तक बिगड़ा हुआ नजर आया। शनिवार सुबह तो जयपुर का औसत प्रदूषण का स्तर 175 से 180 के आसपास दर्ज किया गया। बीते सप्ताह यह स्तर 155 के आसपास था। उधर, राजस्थान के अन्य शहरों की बात करें तो भिवाड़ी में बीती रात का स्तर 350 के आसपास दर्ज किया गया। कोटा में 180, उदयपुर में 215 सहित अन्य जगहों पर भी स्तर 150 के पार दर्ज किया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.