Rajasthani Cinema Mahotsav जवाहर कला केंद्र में 25 मार्च से

शिल्पग्राम मे 25 से 27 मार्च तक आयोजन होगा। फिल्म प्रदर्शन के साथ भविष्य सुधार पर बातें होंगी ।

सिर्फ राजस्थानी फिल्मों ( rajasthani cinema ) के प्रोत्साहन के लिए जयपुर में 25 मार्च से राजस्थानी सिनेमा महोत्सव आयोजित होगा। पहली बार ऐसा होगा, जब प्रदेश में पहली बार सिर्फ राजस्थानी सिनेमा की बातें होगी। जेएलएन मार्ग स्थित जवाहर कला केंद्र ( jawahar kala kendra ) के शिल्पग्राम ( shilpgram ) में तीन दिन तक राजस्थानी गांव सजेगा। यहां पर फिल्मों के साथ-साथ प्रदेश के हर संभाग की कला व संस्कृति भी देखने को मिलेगी। कला संस्कृति विभाग एवं राजस्थानी सिनेमा विकास संघ की ओर से महोत्सव में कई तरह के अवॉर्ड भी दिए जाएंगे। महोत्सव का ब्रोशर हाल ही में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Ashok Gehlot ) ने किया।
संघ के अध्यक्ष शिवराज गुर्जर ने बताया कि सांस्कृतिक आयोजनों से सजे महोत्सव में राज्य के सिनेप्रेमी, कलाकार, इंडस्ट्री से जुड़े लोगों सहित विभिन्न स्कूल-कॉलेज और गैर सरकारी संगठनों से लगभग 2 लाख लोग आएंगे।

राज्य सरकार महात्मा गांधी ( Mahatma Gandhi ) की 150वीं जयंती पर हिंसा मुक्त समाज की परिकल्पना के साथ राजस्थान स्थापना के वैभवशाली इतिहास को लेकर कई आयोजन कर रही है। स्थापना दिवस के दौरान ही 25 से 27 मार्च तक यह महोत्सव प्रदेश की कला व संस्कृति के विभिन्न स्वरूपों को पेश करेगा। रंग-रंगीले राजस्थान के साथ कला-साहित्य के साथ सिनेमा, बोली और पहनावे की छटा भी देखने को मिलेगी।

बता दे कि पहली फिल्म 1942 में बनी तब से करीब 77 साल के सफर में 171 राजस्थानी फिल्में सिने पर्दे पर उतरी। महोत्सव में आयोजकों को तीनों दिन मिलाकर लगभग 2 लाख लोगों के आने की उम्मीद है। रंग-रंगीलो राजस्थान की झलक में बांता राजस्थानी की होगी।

झांकी में 77 साल का सफरनामा
इस महोत्सव में राजस्थानी फिल्मों के प्रदर्शन के साथ-साथ राजस्थानी सिनेमा के इतिहास की झलक भी देखने को मिलेगी। यहां पर सिनेमा के 77 साल के इतिहास को झांकी में प्रदर्शित किया जाएगा। साथ ही हिंसा मुक्त बचपन की झलकियों के साथ सामाजिक कुरीतियों को समाप्त करने की झांकी भी लगेगी। संघ के संरक्षक विपिन तिवारी ने बताया कि इस महोत्सव में राज्य सरकार के ज्यादातर राजकीय विभाग अपनी योजनाओं की प्रदर्शनी लगाएंगे। महोत्सव का उद्घाटन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत करेंगे। हमनें मुख्यमंत्री से ब्रोशन विमोचन के दौरान गुजरात की तर्ज पर राजस्थानी सिनेमा की पॉलिसी बनाने की मांग की है।

इन कैटेगरी में मिलेंगे अवॉर्ड
अंतिम दिन राजस्थानी फिल्मों में महत्वपूर्ण योगदान निभाने वालों की स्मृति के नाम से अवॉर्ड दिए जाएंगे। इनमें पंडित इंद्र स्मृति लाइफ टाइम अचीवमेंट अवॉर्ड, बी.के आदर्श स्मृति बेस्ट प्रोड्यूसर अवॉर्ड, मणिभाई व्यास स्मृति बेस्ट डायरेक्टर अवॉर्ड, महिपाल स्मृति बेस्ट एक्टर अवॉर्ड, जयमाला स्मृति बेस्ट एक्ट्रेस अवॉर्ड, पंडित शिवराम स्मृति बेस्ट संगीतकार अवॉर्ड, भरतव्यास स्मृति बेस्ट गीतकार अवॉर्ड, माणक झालानी स्मति बेस्ट डिस्ट्रीब्यूटर अवॉर्ड, सूरज दाधीच स्मृति बेस्ट राइटर अवॉर्ड, प्रचार-प्रसार और डीओपी अवॉर्ड दिए जाएंगे।

surendra kumar samariya Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned