प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में राजसमंद देश में नंबर वन

प्रधानमंत्री आवास योजना ( Pradhan Mantri Awas Yojana ) ग्रामीण राज्य का राजसमंद जिला ( Rajsamand district ) देशभर में पहले पायदान पर है।

By: Ashish

Published: 16 Dec 2020, 09:10 PM IST

जयपुर
प्रधानमंत्री आवास योजना ( Pradhan Mantri Awas Yojana ) ग्रामीण राज्य का राजसमंद जिला ( Rajsamand district ) देशभर में पहले पायदान पर है। इस योजना में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले जिलों के चयन में राजसमंद जिले ने पिछले 3 सालों में 10 हजार 289 आवासों के लक्ष्य के विरूद्ध 10 हजार 79 आवास निर्माण पूर्ण कर 98.07 प्रतिशत प्रगति अर्जित कर राष्ट्रीय स्तर पर पहला स्थान प्राप्त किया है। अतिरिक्त मुख्य सचिव ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग रोहित कुमार सिंह ( Additional Chief Secretary Rural Development and Panchayati Raj Department Rohit Kumar Singh ) ने बताया कि केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के क्रियान्वयन की जिलेवार रेंकिंग जारी की जाती है। योजनान्तर्गत 16 दिसम्बर को जिलेवार निष्पादन इन्डेक्स रिपोर्ट के आधार पर राजसमंद जिले को रेंकिंग में प्रथम स्थान मिला है। राज्य स्तर पर राजसमंद जिला पिछले 5 माह से लगातार प्रथम स्थान पर है।

इस प्रकार मिली देश में प्रथम रैंक
एसीएस सिंह ने बताया कि राजसमंद जिले को यह रेंकिंग कारीगरों को 45 दिन का प्रशिक्षण, प्रशिक्षित कारीगरों द्वारा 62 आवासों को अल्प समय में पूर्ण करने, पंचायत समिति द्वारा आवास साॅफ्ट पर ग्राम सभा द्वारा अनुमोदित वरीयता सूची अपलोड करने, पात्र परिवारों की वरीयता सूची, आधार सिडिंग, कार्यों की स्वीकृति, किश्तों का भुगतान व कार्य पूर्णता के बिन्दुओं को प्राप्त करने से संभव हो सका।

पहले 50 जिलों में राज्य के 14 जिले शामिल
अतिरिक्त मुख्य सचिव सिंह ने बताया कि राजसमंद जिले के अतिरिक्त देश के प्रथम 100 जिलों में बूंदी, दौसा, डूंगरपुर, सवाई माधोपुर, पाली, भीलवाड़ा, हनुमानगढ़, नागौर, श्रीगंगानगर, प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, उदयपुर एवं जालौर शामिल है। जिनमें बंूदी 12, दौसा 13, डूंगरपुर 16 व सवाई माधोपुर 24वें पायदान पर रहें हैं।
उन्होंने बताया कि राज्य में प्रथम फेज में स्वीकृत 6.87 लाख आवासों में से 6.70 लाख (97.06 प्रतिशत) और गत वर्ष स्वीकृत आवासों में से 65.35 प्रतिशत आवास पूर्ण हो चुके हैं।

अनुमति मिलते ही आवास स्वीकृति शुरू
अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह ने बताया कि योजनान्तर्गत सामाजिक आर्थिक आधारित जनगणना 2011 के आधार पर तैयार स्थाई वरीयता सूची में सभी परिवारों को आवास स्वीकृति जारी कर दी गई है। भारत सरकार से अनुमति प्राप्त होते ही चिन्हित पात्र परिवारों की सूची से भी आवास स्वीकृति प्रारम्भ कर दी जाएगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned