scriptRajya Sabha elections: Congress's equation will be heavy on BJP | राज्यसभा चुनाव: भाजपा पर भारी पड़ेगा कांग्रेस का समीकरण | Patrika News

राज्यसभा चुनाव: भाजपा पर भारी पड़ेगा कांग्रेस का समीकरण

राजस्थान से राज्यसभा के चार सांसदों का कार्यकाल जुलाई के प्रथम सप्ताह में पूरा हो रहा है। चुनाव आयोग ने चारों सीटों पर चुनाव करवाने की घोषणा कर दी है। चारों सांसद वर्तमान में भाजपा के हैं, लेकिन इस बार कांग्रेस आगे बढ़ती हुई नजर आ रही हैं। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है और विधायक भी कांग्रेस के ज्यादा हैं। निर्दलीय विधायकों ने भी सरकार को समर्थन दे रखा है।

जयपुर

Published: May 13, 2022 01:04:20 pm

जयपुर. राजस्थान से राज्यसभा के चार सांसदों का कार्यकाल जुलाई के प्रथम सप्ताह में पूरा हो रहा है। चुनाव आयोग ने चारों सीटों पर चुनाव करवाने की घोषणा कर दी है। चारों सांसद वर्तमान में भाजपा के हैं, लेकिन इस बार कांग्रेस आगे बढ़ती हुई नजर आ रही हैं। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार है और विधायक भी कांग्रेस के ज्यादा हैं। निर्दलीय विधायकों ने भी सरकार को समर्थन दे रखा है।
Rajasthan Politics
Rajasthan Politics:
वर्तमान विधायकों की स्थिति को देखते हुए इन 4 में से 2 सीटों पर कांग्रेस को स्पष्ट जीत मिलती नजर आ रही है, जबकि भाजपा की एक सीट पक्की मानी जा रही है। चौथी सीट के लिए दोनों ही दलों के पास विधायक की पर्याप्त संख्या नहीं है। ऐसे में इस सीट पर मुकाबला रोचक होगा, हालांकि कांग्रेस को उम्मीद है कि निर्दलीय एवं अन्य दलों के समर्थन से वह तीसरी सीट भी जीतने में कामयाब रहेगी, वहीं भाजपा इस कोशिश में लगी है कि निर्दलीय विधायकों को तोड़कर चौथी सीट पर मुकाबला रोचक कर दिया जाए।
राजस्थान से राज्यसभा के दस सांसद हैं। इन दस में से सात पर वर्तमान में भाजपा के सांसद हैं, वहीं तीन सीटें कांग्रेस के पास है। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री केसी वेणुगोपाल और नीरज डांगी राजस्थान से कांग्रेस के राज्यसभा सांसद हैं।
भाजपा के सात सांसदों में से चार सांसद ओम प्रकाश माथुर,केजे अल्फोंस, रामकुमार वर्मा और हर्षवर्धन सिंह डूंगरपुर का कार्यकाल जुलाई में खत्म हो रहा है। बाकी तीन भाजपा के राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा, भूपेन्द्र यादव और राजेन्द्र गहलोत हैं। चुनाव के बाद राजस्थान से राज्यसभा सांसदों का समीकरण बदल जाएगा।
कांग्रेस की राज्यसभा सीटें बढ़कर पांच होना तो तय है। चार में से तीन सीटें कांग्रेस जीत जाती हैं, तो दस में से छह सीटें कांग्रेस के खाते में होंगी। भाजपा की कोशिश रहेगी कि कांग्रेस को पांच सीटों पर ही रोक लिया जाए, जिससे दोनों दल के बराबर-बराबर सांसद हो जाएं।
एक सीट 41 विधायकों के वोट की जरूरत
राज्यसभा सांसद चुनाव में विधायक वोट करते हैं। चार सीटों पर चुनाव है, तो विधायकों की संख्या के अनुसार जीत के लिए 41 विधायकों के वोटों की जरूरत होगी। चार में से एक सीट भाजपा और दो सीट कांग्रेस के खाते में जाना तय है। चौथी सीट के लिए भाजपा के पास 30 और कांग्रेस के पास 26 विधायकों के वोट हैं। चौथी सीट पर निर्दलीयों एवं अन्य दलों की भूमिका महत्वपूर्ण होगी।
newsletter

Anand Mani Tripathi

आनंद मणि त्रिपाठी राजस्थान पत्रिका में राजनीति, अपराध, विदेश, रक्षा एवं सामरिक मामलों के पत्रकार हैं। पत्रकारिता के तीनों माध्यम प्रिंट, टीवी और आनलाइन में गहरा और अपनी तेज तर्रार रिपोर्टिंग के लिए जाने जाते हैं। पश्चिम बंगाल के कलकत्ता में जन्म हुआ। प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश के कानपुर और बस्ती में हुई। माध्यमिक शिक्षा नवोदय विद्यालय बस्ती, फैजाबाद और पूर्वोत्तर त्रिपुरा के धलाई जिले में हुई। अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से स्नातक और 2009 में जेआईआईएमसी,दिल्ली से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया। हरियाणा से पत्रकारिता आरंभ की। शिक्षा, विज्ञान, मौसम, रेलवे, प्रशासन, कृषि विभाग और मंत्रालय की रिपोर्टिंग की। इंवेस्टिगेटिव रिपोर्टिंग से शिक्षा और रेलवे विभाग के कई भ्रष्टाचार का खुलासा किया। रक्षा मंत्रालय के रक्षा संवाददाता पाठयक्रम-2016 पूरा किया। इसके बाद रक्षा मामलों की पत्रकारिता शुरू कर दी। चीन, पाकिस्तान और कश्मीर मामलों पर तीक्ष्ण नजर रहती है। लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या 2017, राइफलमैन औरंगजेब की हत्या 2018, जम्मू—कश्मीर में बदले 2018 में बदले राजनीतिक समीकरण, पुलवामा हमला 2019, कश्मीर से 370 का हटना, गलवान घाटी मुठभेड़ 2020 को बेहद करीब से जम्मू और कश्मीर में रहकर ही कवर किया। कोरोना काल 2020 में भी लददाख से नेपाल तक की यात्रा चीन के बदलते समीकरण को लेकर की। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 में जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पंजाब की रिपोर्टिंग की। 9 नवंबर 2019 को श्रीराम जन्म भूमि अयोध्या मामले में आए फैसले की अयोध्या से कवर किया। 2022 उत्तरप्रदेश् चुनाव को सहारनपुर से सोनभद्र तक मोटर साइकिल के माध्यम से कवर किया। पत्रकारिता से इतर आनंद मणि त्रिपाठी को संगीत और पर्यटन का जबरदस्त शौक है। इन्हें किसी भी कार्य में असंभव शब्द न प्रयोग करने के लिए जाना जाता है...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

बुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामजून का महीना किन 4 राशियों की चमकाएगा किस्मत और धन-धान्य के खोलेगा मार्ग, जानेंमान्यता- इस एक मंत्र के हर अक्षर में छुपा है ऐश्वर्य, समृद्धि और निरोगी काया प्राप्ति का राजराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाVeer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

पाकिस्तान में गृहयुद्ध जैसे हालात, लाखों समर्थकों संग डी-चौक पहुंचे इमरान खान, लोगों ने फूंका मेट्रो स्टेशन, राजधानी में सड़कों पर सेनाउद्धव के एक और मंत्री पर ED का शिकंजा, महाराष्ट्र के परिवहन मंत्री अनिल परब के घर प्रवर्तन निदेशालय का छापाKashmir On Alert: जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में लश्कर के 3 आतंकी ढेर, सभी सशस्त्र बलों की छुट्टियाँ रद्दBy election in Five States: पांच राज्यों की तीन लोकसभा और सात विधानसभा सीटों पर उपचुनाव का ऐलान, इस दिन होगी वोटिंगUP Budget 2022 Live : विधानसभा पहुंचे योगी आदित्यनाथ और वित्त मंत्री सुरेश खन्नादिल्ली के नए उपराज्यपाल विनय सक्सेना आज संभालेंगे पद, सामने होंगी बड़ी चुनौतियांभारतीयों से कभी नहीं मांगेंगे रहम की भीख, आजादी के लिए संघर्ष जारी रहेगा: यासीन मलिक की पत्नी के 'आतंकी' बोलयासीन मलिक ने किया आइडिया ऑफ इंडिया पर हमला, महात्मा गांधी से तुलना करने पर भड़के जज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.