राम भक्तों ने 'दानवीर' बनकर रचा इतिहास, इस जिले से सबसे अधिक धन संग्रह

राम मंदिर निर्माण को लेकर प्रदेशवासी बेहद उत्साहित

मकर संक्रांति से निधि समर्पण अभियान का हुआ था आगाज

By: SAVITA VYAS

Updated: 26 Feb 2021, 03:24 PM IST

जयपुर। जन-जन की अस्था के केंद्र अयोध्या स्थित भगवान राम मंदिर निर्माण के लिए जारी निधि समर्पण अभियान में प्रदेशवासियों का उत्साह देखते ही बन रहा है। मंदिर निर्माण के लिए राजस्थान से करीब 500 करोड़ रुपए सहयोग निधि समर्पित की गई है, जो अपने आप में एक रेकॉर्ड है। अभियान के अंतिम चरण में अब स्वयंसेवक डोर-टू-डोर संग्रहण बंद कर धनरशि को बैंक में जमा करवाने से लेकर दानदाता का संपूर्ण ब्यौरा को लिखने में दिन-रात जुटे हुए हैं।

अब दो दिन रह गए शेष

अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर के लिए मकर संक्रांति 15 जनवरी 2021 से विश्व का अब तक का सबसे बड़ा निधि संग्रहण और जनसंपर्क अभियान का शंखनाद हुआ था। माघ पूर्णिमा 27 फरवरी 2021 तक निधि समर्पण अभियान के दौरान प्रयत्न के बावजूद संपर्क से रह गए रामभक्त समर्पणकर्ताओं के लिए जयपुर में छह स्थानों पर निधि स्वीकार करने की व्यवस्था की गई है। जिसका अंतिम दिन शनिवार को है।

जोधपुर से मिला 210 करोड़ रुपए का सहयोग
प्रदेश में सर्वधर्म समाज के लोगों ने राम मंदिर निर्माण के लिए बढ़-चढ़कर योगदान दिया है। सबसे ज्यादा 210 करोड़ रुपए से अधिक का सहयोग जोधपुर प्रांत से मिला है। वहीं चित्तौड़ प्रांत से 150 करोड़, जयपुर प्रांत से 150 करोड़ रुपए का योगदान मिला है। कुल 500 करोड़ रुपए से ज्यादा का सहयोग अब तक मिल चुका है। हालांकि शुक्रवार और शनिवार का दिन फिलहाल शेष है। ऐसे में यह आंकड़ा 525 करोड़ रुपए से अधिक होने की उम्मीद है।

Ram Mandir
SAVITA VYAS Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned