भारत-चीन सीमा विवाद पर बोले सुरजेवाला, भाजपा को राष्ट्र से नहीं सत्ता से है प्रेम

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि केंद्र सरकार की नाकामी से हमें सैनिकों की शहादत का यह दु:खद दिन देखना पड़ा।

By: Ashwani Kumar

Updated: 17 Jun 2020, 03:40 PM IST

जयपुर. देश के जवानों पर हमें नाज है। देश एकजुट है। अब केंद्र सरकार को 130 करोड़ देशवासियों को विश्वास में लेना होगा। भारत-चीन बॉर्डर पर क्या हुआ, कितने सैन्य अधिकारी और जवान घायल हैं, यह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को बताना चाहिए? यह कहना है भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला का। वे बुधवार को दिल्ली रोड स्थित जेडब्ल्यू मैरियट होटल में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की नाकामी से हमें सैनिकों की शहादत का यह दु:खद दिन देखना पड़ा। मोदी सरकार शहीद जवानों के परिवारों को क्या जबाव देगी? सुरजेवाला ने कहा कि चीन ने देश की सरजमीं पर कब्जा कर रहा था, तब रक्षामंत्री और गृहमंत्री रैलियां करने में व्यस्त थे। वहीं, प्रधानमंत्री वीसी में व्यस्त थे। केंद्र सरकार चीन से लडऩे की बजाय कांग्रेस से लड़ रही है। राज्यों में जनता द्वारा चुनी गईं सरकारों को गिराने का षड्यंत्र रच रहे हैं। भाजपा को राष्ट्र से नहीं, सत्ता से प्रेम है।

तीन लाख करोड़ रुपए कमाए
डीजल-पेट्रोल दामों में लगातार हो रही मूल्य वृद्धि पर सुरजेवाला ने कहा कि पिछले तीन माह में केंद्र सरकार ने जनता की जेब से तीन लाख करोड़ रुपए निकलवा चुकी है। उन्होंने कहा कि यह वसूली का समय नहीं है। कोरोना और सीमा पर विकट स्थिति के बीच जनता पर बोझ डालना ठीक नहीं है। कोरोनाकाल से बाहर निकलकर उद्योग धंधे शुरू हो रहे हैं। मध्यम वर्ग जीवन को पटरी पर लाने की कोशिश में है। सरकार का फैसला जन विरोधी है। पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर पेट्रोल-डीजल के दाम कम करने की मांग की है।

Ashwani Kumar Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned