RAS Officer ने की ट्रेन के सामने लगाई छलांग, सुसाइड नोट में लिखी आत्महत्या की वजह

राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी मोहनसिंह चारण ने ट्रेन के सामने कूदकर की आत्महत्या, महिला एवं बाल विकास विभाग में थे तैनात

By: pushpendra shekhawat

Published: 07 Jun 2021, 09:48 PM IST

जयपुर। राजस्थान प्रशासनिक सेवा के अधिकारी मोहनसिंह चारण ने सोमवार सुबह ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर ली। शव को रेलवे ट्रेक के नजदीक देखकर राहगीर ने पुलिस को सूचना दी। जिस पर करधनी थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को मोर्चरी में रखवाया। मृतक की की जेब में मिले लाइसेंस से उसकी पहचान आरएएस अफसर चारण के रूप में हुई। मृतक की जेब में एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें मानसिक अवसाद में होने की बात लिखी है इसी के साथ किसी को परेशान नहीं करने की बात है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

चारणों की ढाणी उदयपुरवाटी जिला झुंझुनू हाल वैशाली नगर के नेमी नगर निवासी मोहन सिंह पुत्र रामसिंह रोजाना की तरह सुबह मॉर्निंग वॉक पर निकले थे। इसके बाद वे कनकपुरा फाटक के नजदीक पहुंच गए और वहीं पर अपनी कार खड़ी कर दी। सुबह करीबन 8.30 बजे रेलवे पटरियों के नजदीक अज्ञात व्यक्ति के शव पड़े होने की सूचना पुलिस को मिली। शव की जेब में मिले लाइसेंस और गाड़ी की आरसी के आधार पर पुलिस ने उनकी पहचान आरएएस अफसर चारण के तौर पर की। मोहन सिंह महिला बाल विकास विभाग में प्रशासनिक अधिकारी के पद कार्यरत थे। इससे पहले नगर निगम में उपायुक्त भी रह चुके हैं।

मिला सुसाइड नोट

मृतक मोहन सिंह के पास से एक सुसाइड नोट मिला है जिसमें लिखा था कि वह मानसिक अवसाद में है और अपनी मर्जी से सुसाइड कर रहे है और इस मामले में किसी को परेशान नहीं किया जाए। एसीपी झोटवाडा हरिशंकर शर्मा के अनुसार फिलहाल मानसिक अवसाद में होने की वजह सामने नहीं आई है। पुलिस सुसाइड नोट के आधार पर परिजनो सहित महिला बाल विकास विभाग के अन्य अधिकारियों से पूछताछ करेगी। मामले में पुलिस हर पहलू को ध्यान में रखकर जांचकर रही है।

रोज करते थे वॉक

नेमीसागर कालोनी में रहने वाले चारण रोजाना वॉक करने जाते थे। परिजनों के अनुसार सोमवार सुबह भी कार लेकर वॉक पर गए थे। वे खिरणी फाटक के आसपास ही वॉक करते थे।

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned