RBI ने मानी मोबाइल एप किया लॉन्च, अब नकली नोट की पहचान करना होगा आसान

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank Of India) ने नेत्रहीन लोगों के लिए एक खास मोबाइल एप मानी (Mobile
Aided Note Identifier) को लॉन्च कर दिया है। इस एप की मदद से लोग आसानी से नकली नोट की पहचान कर सकेंगे। आरबीआई
का यह एप नोट की जांच कर बताएगा कि नोट कितने का है और असली है या नहीं। वहीं, लोग इस एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। इस
एप की खासियत है कि यह नोट की पहचान अच्छे से करता है और जरूरी जानकारी साउंड के जरिए देता है।

By: poonam shama

Published: 03 Jan 2020, 12:47 PM IST

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (Reserve Bank Of India) ने नेत्रहीन लोगों के लिए एक खास मोबाइल एप मानी (Mobile
Aided Note Identifier) को लॉन्च कर दिया है। इस एप की मदद से लोग आसानी से नकली नोट की पहचान कर सकेंगे। आरबीआई
का यह एप नोट की जांच कर बताएगा कि नोट कितने का है और असली है या नहीं। वहीं, लोग इस एप को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। इस
एप की खासियत है कि यह नोट की पहचान अच्छे से करता है और जरूरी जानकारी साउंड के जरिए देता है।

Mobile Aided Note Identifier एप की खूबियां
आरबीआई का एप अपने यूजर्स को नोट की सटीक जानकारी देता है। इसके अलावा यूजर्स को इस एप में ऑडियो सेंसर का सपोर्ट मिलेगा, जिससे वह इसको
अपनी आवाज से कंट्रोल कर सकेंगे। अगर नोट कही से मुड़ा है, तो भी यह एप उसकी आसानी से पहचान कर सकेगा। वहीं, मानी एप इंटैग्लियो प्रिंटिंग, टैक्स
टाइल मार्क, साइज़, नंबर, रंग और मोनोक्रोमेटिक पैटर्न की आसानी से जांच करता है।

2,000 रुपये के नोट बंद होने की मिली थी खबर
इससे पहले सोशल मीडिया पर कई रिपोर्ट लीक हुई थी, जिनमें 2,000 रुपये के नोट बंद होने की जानकारी मिली थी। हालांकि, केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री
अनुराग ठाकुर ने इस तरह की खबरों को सिरे से खारिज किया था। उनका कहना है कि अब तक सरकार ने 2,000 रुपये के नोट को लेकर किसी तरह का
प्रस्ताव पेश नहीं किया है।

rbi
poonam shama Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned