हैरिटेज नगर निगम से कांग्रेस को उम्मीदें, बागी बनें प्रत्याशियों की राह में रोड़ा

-हैरिटेज के 100 वार्डों में से 40 वार्ड अल्पसंख्यक बाहुल्य, अल्पसंख्यक बाहुल्य वार्डों में कांग्रेस प्रत्याशियों को मिल रही बागियों से कड़ी चुनौती, हवामहल और किशनपोल विधानसभा क्षेत्रों के अधिकांश वार्डों में बागी डटे हैं मैदान में

By: firoz shaifi

Published: 28 Oct 2020, 12:37 PM IST

फिरोज सैफी/जयपुर।

हैरिटेज नगर निगम के 100 वार्डों के लिए कल मतदान होना है। हवामहल, आदर्श नगर, किशनपोल और सिविल लाइंस और आमेर जैसे विधानसभा क्षेत्र हैरिटेज नगर निगम में होने के चलते कांग्रेस के यहां से खासी उम्मीदें हैं, क्योंकि शहर के कांग्रेस पांच विधायकों में से चार हैरिटेज क्षेत्र में ही आते हैं।

हालांकि हैरिटेज के सौ वार्डों में से करीब 40 वार्ड अल्पसंख्यक बाहुल्य मतदाताओं के होने के बावजूद कांग्रेस के लिए यहां चुनौतियां कम नहीं है। अल्पसंख्यक बाहुल्य इन वार्डों में भाजपा के अल्पसंख्यक चेहरों के साथ ही बागियों ने भी कांग्रेस प्रत्याशियों की राह में रोड़ा अटकाए हुए हैं।

कांग्रेस प्रत्याशिय़ों को बागियों से कड़ी चुनौती मिल रही है। हवामहल और किशनपोल विधानसभा क्षेत्र के दो दर्जन से ज्यादा वार्ड ऐसे हैं जहां कांग्रेस के बागियों ने पार्टी के दिग्गज नेताओं की टेंशन बढ़ाई हुई है।

लाख कोशिशों के बावजूद कांग्रेस विधायक महेश जोशी और अमीन कागजी बागियों को मनाने में असफल रहे। प्रचार के दौरान भी कांग्रेस विधायक महेश जोशी और अमीन कागजी को कई बार विरोध का सामना भी करना पड़ा।

विधायकों की प्रतिष्ठा दांव पर
विधानसभा चुनाव के दौरान हवामहल, सिविल लाइंस और किशनपोल विधानसभा क्षेत्रों में जहां कांग्रेस प्रत्याशियों के पक्ष में बंपर वोटिंग से लीड मिली थी, अब उन्हीं वार्डों में कांग्रेस प्रत्याशियों को बागियों से कड़ी चुनौती मिल रही है।

विधानसभा चुनाव में हवामहल से विधायक महेश जोशी को भट्टा बस्ती, नाहरी नाका, रामगढ़ रोड जैसे इलाकों से लीड मिली थी तो वहीं किशनपोल से विधायक अमीन कागजी को चांदपोल, जालूपुरा, रामगंज जैसे अल्पसंख्यक बाहुल्य इलाकों से लीड मिली थी। यही वजह है कि इन वार्डों में प्रचार की कमान अब खुद विधायकों ने अपने हाथों में ले ली है। गली-गली घूमकर कांग्रेस विधायक अपने प्रत्याशियों के लिए वोट मांग रहे हैं।

कांग्रेस ने 28 और भाजपा ने उतारे 17 अल्पसंख्यक चेहरे
हैरिटेज नगर निगम में इस बार कांग्रेस ने 28 और भाजपा ने 17 अल्पसंख्यक नेताओं को उम्मीदवारों बनाया है। कांग्रेस ने हवामहल से 12, किशनपोल से 8, आदर्श नगर से 7 और आमेर से एक अल्पसंख्यक नेता पर दांव खेला है।


हवामहल के इन वार्डों में मिल रही बागियों से चुनौती
हैरिटेज नगर निगम चुनाव में हवामहल विधानसभा क्षेत्र के जिन वार्डों में कांग्रेस प्रत्याशियों को बागियों से कड़ी चुनौती मिल रही है उनमें वार्ड 5, , 6, 13, 15, 19, 23, 27 और 28 नंबर वार्ड हैं, जहां कांग्रेस के ही बागी पार्टी को नेताओं को टेंशन दे रहे हैं। इसके अलावा सिविल लाइंस के अल्पसंख्यक बाहुल्य वार्ड 33 में भी कांग्रेस प्रत्याशी को बागियों से चुनौती मिल रही है।

किशनपोल में के इन वार्डों में मिल रही बागियों से चुनौती
वहीं किशनपोल विधानसभा क्षेत्र के वार्ड 55, 61 62 65 67 और वार्ड 75 में बागी कांग्रेस प्रत्याशियों के लिए चुनौती पेश कर रहे हैं।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned