scriptreet 2021 exam paper leak latest news | रीट पेपर लीक होने से पहले बाजार में लगी थी बोली, मिला उसे जिसने लगाए सबसे ऊंचे दाम | Patrika News

रीट पेपर लीक होने से पहले बाजार में लगी थी बोली, मिला उसे जिसने लगाए सबसे ऊंचे दाम

REET 2021 Exam Paper Leak: रीट पेपर लीक के आरोप में गिरफ्तार रामकृपाल मीणा डिप्टी को-ऑर्डिनेटर बनने से पहले ही आश्वस्त था कि उसके पास पेपर आएगा।

जयपुर

Published: January 29, 2022 11:48:05 am

रीट पेपर लीक के आरोप में गिरफ्तार रामकृपाल मीणा डिप्टी को-ऑर्डिनेटर बनने से पहले ही आश्वस्त था कि उसके पास पेपर आएगा। इसलिए वह पहले ही उदाराम विश्नोई और उसकी तरह ही पर्चा लीक के लिए कुख्यात एक अन्य आरोपी के सम्पर्क में थे। उसने पेपर उदालाल को दिया, जिसने मुंह मांगी कीमत देनी की हां भरी। अब सवाल यह है कि रामकृपाल की पेपर केन्द्र (शिक्षा संकुल) में तैनाती कैसे हुई तथा जिस पैकेट को काट कर उसने पेपर निकाला वह किस केन्द्र पर पंहुचा। इस केन्द्र के संचालक भी गिरोह में शामिल हो सकते हैं, जिन्होंने कटा हुआ पैकेट व एक पेपर कम मिलने पर भी कहीं शिकायत नहीं दी।
reet 2021 exam paper leak latest news
एसओजी ने पेपर लीक करने वाले रामकृपाल मीणा व उसके खरीददार उदाराम को दो दिन पहले गिरफ्तार किया था। पड़ताल में सामने आया कि रीट की परीक्षा तय होने के साथ ही उदालाल पेपर हथियाने के प्रयास में जुट गया था। उसकी तरह ही प्रदेश स्तर पर नकल व पेपर लीक में सक्रि य एक और गिरोह का सरगना सक्रिय था। उस पर ग्राम विकास अधिकारी व पुलिस उपनिरीक्षक परीक्षा में भी गड़बड़ी में नाम सामने आ रहा है। हालांकि मोलभाव में रामकृपाल मीणा ने उदाराम का ऑफर स्वीकार किया।
यह भी पढ़ें ः रीट पेपर लीक मामलाः डीपी जारोली पर गिरी गाज, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से किया बर्खास्त

शिक्षा संकुल में ही थे गैर सरकारी व्यक्ति
माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने पेपर की निगरानी के लिए शिक्षा संकुल में जहां गैर सरकारी व्यक्ति नियुक्त किए थे। इसके अलावा अन्य सभी जिलों में एडीएम स्तर के अधिकारियों को यह जिम्मेदारी दी गई थी। जयपुर में मुख्य जिम्मेदारी गैर सरकारी व्यक्ति प्रदीप पाराशर को को-ऑर्डिनेटर के रूप में दी गी थी।
कांग्रेस सरकार की परीक्षा में पाराशर ही को-ऑर्डिनेटर
सामने आया है कि वर्ष 2011 और 2012 में कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में हुई आरटेट परीक्षा में जयपुर का को-ऑर्डिनेटर प्रदीप पाराशर को ही बनाया गया था। उस समय बोर्ड चेयरमैन मंत्री सुभाष गर्ग थे। पाराशर मंत्री सुभाष गर्ग और बोर्ड चेयरमैन डीपी जारौली के करीबी हैं। इस सम्बंध में प्रदीप पाराशर का कहना है कि एसओजी की ढाई दिन पूछताछ में अभी तक मेरी लिप्तता नहीं मिली है। एसओजी बुलाएगी तो फिर जाउंगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभकिसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामसूर्य-बुध की युति से बनेगा ‘बुधादित्य’ राजयोग, जानिए किसकी चमकेगी किस्मत?दिल्ली के सरकारी स्कूलों में सिर्फ 15 दिन का समर वेकेशन, जानिए प्राइवेट स्कूलों को लेकर क्या हुआ फैसला17 मई से 3 राशि वालों के खुलेंगे भाग, मंगल का मीन में गोचर दिलाएगा अपार सफलता2023 तक मीन राशि में रहेगा 'जुपिटर ग्रह', 3 राशियों की धन-दौलत में करेगा जबरदस्त वृद्धिगेहूं के दामों में जोरदार उछाल, एक माह में बढ़े 300 रुपए क्विंटलजमकर बिकी Tata की ये किफायती SUV! एडवांस फीचर्स और 5 स्टार सेफ़्टी के आगे फेल हुएं सभी

बड़ी खबरें

कांग्रेस को बड़ा झटका, सुनील झाखड़ ने पार्टी से दिया इस्तीफा, सोनिया गांधी पर उठाए सवालदिल्ली मुंडका अग्निकांडः सीएम केजरीवाल ने दिए मजिस्ट्रेड जांच के आदेश, परिजनों को 10 लाख रुपए के मुआवजे का किया ऐलानदिल्ली में उपहार सिनेमा से लेकर मुंडका अग्निकांड तक भीषण अग्निकांड में जिंदा जले लोग, जानिए कब-कब हुए हादसेcongress chintan shivir 2022: बढ़ती महंगाई के लिए चिदंबरम ने केंद्र को बताया जिम्मेदार, 'धीमी विकास दर सरकार की पहचान'Congress Chintan Shivir 2022 'एक परिवार में एक टिकट' फॉर्मूला क्या सख्ती से होगा लागू, कई फॉर्मूले पहले से ही ठंडे बस्ते मेंCongress Chintan Shivir 2022: तब राजीव गांधी को भेजे एक टेलीग्राम से निकली सस्ता अनाज, इन्दिरा आवास योजना6 करोड़ 75 लाख के खिलाड़ी ने IPL से अचानक रिटायरमेंट का ऐलान कर चौंकाया, CSK को बहुत बड़ा झटकाIMD Red Alert : आज पूरे देश में राजस्थान सबसे गर्म, मानसून देगा पांच दिन पहले दस्तक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.