Reet Exam 2021: परिणाम से पहले ही मामला पहुंचा हाईकोर्ट, 6 अक्टूबर को होगी सुनवाई

रीट की सीबीआई जांच की गुहार, 6 अक्टूबर को होगी सुनवाई, परीक्षा में गड़बड़िेयों को लेकर राजस्थान पत्रिका में प्रकाशित खबरों को बनाया आधार

By: pushpendra shekhawat

Published: 04 Oct 2021, 07:51 PM IST

जयपुर। रीट—2021 को लेकर सोमवार को राजस्थान हाईकोर्ट में याचिका दायर हुई है। इसमें रीट परीक्षा में हुई धांधली की सीबीआई या राज्य से बाहर की जांच एजेंसी से जांच की गुहार की गई है। इसी के साथ पेपर लीक पाए जाने की स्थिति में पुन: परीक्षा का आयोजन करने की मांग की है। याचिका में राजस्थान पत्रिका में प्रकाशित खबरों को आधार बनाते हुए कहा है कि आरपीएस, शिक्षक, पुलिसकर्मियों को निलंबित किया गया है। परीक्षा से पहले ही पेपर कांस्टेबल के मोबाइल में मिला है।


मधु कुमारी नागर व पांच अन्य अभ्यर्थियों की ओर से हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई है। याचिकाकर्ता के अधिवक्ता राम प्रताप सैनी ने कहा कि सवाई माधोपुर, बीकानेर, जयपुर सहित अजमेर में रीट पेपर में धांधलियां, डमी अभ्यर्थी सहित अन्य अनियमिकता को लेकर थानों में एफआइआर दर्ज है। मामले की एसओजी जांच कर रही है इसमें कुछ आरपीएस, आरएएस, पुलिसकर्मी और शिक्षकों के नाम सामने आए हैं।

परीक्षा से करीबन 16 लाख अभ्यर्थी जुड़े हुए हैं ऐसे में मामले की निष्पक्ष जांच होना जरूरी है। इसके लिए सीबीआई या राज्य के बाहर की एजेंसी को जांच सौंपी जानी चाहिए। याचिका में मुख्य सचिव, प्राथमिक शिक्षा विभाग के प्रमुख शासन सचिव, रीट परीक्षा संयोजक सहित अन्य को पक्षकार बनाया है। याचिका पर छह अक्टूबर को सुनवाई होगी। इसी मामले में जनहित याचिका भी दायर की गई है।

आठ दिन बाद ही कोर्ट पहुंचा मामला
राजस्थान में 26 सितंबर को प्रदेश के इतिहास की सबसे बड़ी परीक्षा का आयोजन हुआ था। लेकिन परिणाम से पहले ही मामला हाईकोर्ट पहुंच गया है। परीक्षा के दौरान नकल और गड़बड़ियों के मामले सामने आने के बाद अब कुछ अभ्यर्थियों ने परीक्षा को रद्द करवाने की मांग करना शुरू कर दिया है। याचिका में कोर्ट का फैसला आने तक परिणाम जारी करने पर भी रोक लगाने की गुहार की है।

पत्रिका की खबर बनी आधार
याचिका में राजस्थान पत्रिका में 27 सितंबर, 28 सितंबर और 29 सितंबर को प्रकाशित खबरों को आधार बनाया है। खबरों के आधार पर कहा है कि अब तक परीक्षा में एक आरएएस, आरपीएस शिक्षा विभाग के अधिकारी सहित बीस अधिकारियों को गड़बड़ियों शामिल होने की बात सामने आ चुकी है ऐसे में निष्पक्ष जांच आवश्यक है।

Show More
pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned