Reet update 2021 : साल की सबसे बड़ी परीक्षा मेें नेटबंदी होगी या नहीं... यहां पढ़ें

यह पहली बार है कि किसी परीक्षा में पुलिस की पूरी ताकत झोंक दी गई है।

By: JAYANT SHARMA

Updated: 20 Sep 2021, 12:30 PM IST

जयपुर
साल की सबसे बड़ी परीक्षा ने राजस्थान सरकार की चिंता बढ़ा रखी है। परीक्षा में नकल गिरोह की सेंध रोकने के लिए हर संभव प्रयास करने के साथ ही परीक्षा तक अभ्यर्थियों को सही और आसान तरीके से पहुंचाने पर भी काम चल रहा है। रविवार को होने वाली इस परीक्षा से पहले पुलिस मुख्यालय में पुलिस अफसरों की बैठक प्रस्तावित है। बैठक के बाद नेटबंदी पर फैसला लिया जाना है। अफसरों की मानें तो रविवार को परीक्षा के दौरान बारह से चैबीस घंटे के लिए इंटरनेट बंद किया जा सकता है। बताया जा रहा है कि कई संगठनों ने भी नेट बंदी की मांग की है।

साल की सबसे बड़ी परीक्षा इसलिए है रीट भर्ती
रीट भर्ती 2021 तीन तारीखें बदलने के बाद आखिर रविवार 26 सितंबर को होने जा रही है। परीक्षा इसलिए सबसे बड़ी है क्योंकि इसमें पच्चीस लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों ने आवेदन किया है। इन अभ्यर्थियों को हर जिले में परीक्षा सेंटर दिए गए हैं। चार हजार से भी ज्यादा परीक्षा सेंटर्स पर 31 हजार से ज्यादा पदों के लिए दो पारियों में परीक्षा का आयोजन होना है। माना जा रहा है कि इस परीक्षा में सत्तर फीसदी से भी ज्यादा अभ्यर्थी अपीयर हो सकते हैं और इसी अनुसार तैयारियां भी की जा रही है।

इस कारण डर है सरकार को, एक सप्ताह में ही एक सौ बीस पकडे
दरअसल रीट से पहले पुलिस और प्रशासनिक अफसरों को पेपर लीक होने का डर है। यही कारण है कि पेपर सिस्टम के बारे में चुनिंदा अफसरों को ही फिलहाल जानकारी है। परीक्षा से एक घंटे पहले ही सेंटर्स पर पेपर पहुंचाएं जाएंगे आवश्यक दिशा निर्देशों के साथ। उधर पुलिस को इसलिए भी बड़ा डर सता रहा है कि इस महीने एक ही सप्ताह में चार बार नकल गिरोह परीक्षा में सेंध लगा चुका है। इन परीक्षाओं में नीट, एसआई भर्ती, कृषि पर्यवेक्षक और डाक सेवा की भर्ती शामिल है। इन चारों परीक्षाओं में सेंध लगाने की कोशिश करने वाले करीब एक सौ बीस बदमाशों को सात दिन के दौरान पकडा जा चुका है।

इतना सख्त बंदोबस्त आज तक नहीं, सात एजेंसियां जुटीं, कलक्टर लेंगे नेट बंदी पर फैसला
अब बात सुरक्षा बंदोबस्त की। सुरक्षा और नेट बंदी को लेकर दो पुलिस और जिला प्रशासन की टीमें काम कर रही हैं। हर जिले में थानों और पुलिस लाइनों के कुल जाब्ते में से करीब अस्सी फीसदी जाब्ते को परीक्षा सेंटर्स, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशनों और अन्य जगहों पर तैनात किया गया है। हर सेंटर पर आठ से बारह तक पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं। कोविड गाइड लाइन का पालन भी सख्ती से कराने के निर्देश हैं। इस बीच थानों की पुलिस के अलावा एसओजी, एटीएस, एसीबी, आईबी, डीएसटी, पुलिस अधीक्षकों की स्पेशल टीमें भी अपने अपने स्तर पर परीक्षा में सेंध लगाने वालों के खिलाफ जांच पडताल कर रही है। यह पहली बार है कि किसी परीक्षा में पुलिस की पूरी ताकत झोंक दी गई है।

इस पुलिस बेडे पर है परीक्षा की बड़ी जिम्मेदारी
आईपीएस 185 से ज्यादा
एडिशनल एसपी 250 से ज्यादा
डीवाईएसपी 500 से ज्यादा
इंस्पेक्टर 1270 से ज्यादा
सब इंस्पेक्टर 4290 से ज्यादा
एएसआई 6110 से ज्यादा
हैड कांस्टेबल 18000 से ज्यादा
कांस्टेबल 71000 से ज्यादा

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned