REET Paper Controversy- जारोली और पाराशर के गिरोह ने पेपर किया लीक-डॉ. किरोड़ीलाल मीणा

REET Paper Controversy-भाजपा सांसद डॉ.किरोड़ी लाल मीणा ने आरोप लगाया है कि राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डीपी जारोली और राजधानी जयपुर के परीक्षा समन्वयक डॉ. प्रदीप पाराशर के गिरोह ने रीट परीक्षा का पेपर लीक किया है, उन्होंने बत्तीलाल मीणा की हत्या की आशंका भी जता

By: Rakhi Hajela

Published: 06 Oct 2021, 09:42 PM IST

रीट 2021 पर सांसद किरोड़ीलाल मीणा ने कहा

मीणा ने बत्तीलाल मीणा के हत्या की आशंका जताई
जयपुर।
भाजपा सांसद डॉ.किरोड़ी लाल मीणा ने आरोप लगाया है कि राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष डीपी जारोली और राजधानी जयपुर के परीक्षा समन्वयक डॉ. प्रदीप पाराशर के गिरोह ने रीट परीक्षा का पेपर लीक किया है, उन्होंने बत्तीलाल मीणा की हत्या की आशंका भी जताई है।
बुधवार को एक आयोजित एक प्रेसवार्ता में उनका कहना था कि जारोली ने जयपुर जिले में सेवानिवृत्त प्रोफेसर डॉ. प्रदीप पाराशर को गलत तरीके से समन्वयक बनाया। उन्होंने अपने चार निजी लोगों को मौखिक आदेश पर नियुक्त किया, इन्हीं में से दो लोगों ने पेपर लीक किया है। इन चारों में से दो लोग कांग्रेस के सक्रिय सदस्य हैं। मीणा ने कहा कि एसओजी कह रही है कि उन पर कोई दबाब नहीं है, लेकिन कई बड़े नाम हैं जिन पर एसओजी नजर नहीं डालेगी, इसलिए सीबीआई जांच की मांग की जा रही है।
मीणा ने कहा कि रीट परीक्षा के लिए बोर्ड ने हर जिले में जिला समन्वयक बोर्ड ने नियुक्त किए। 32 जिलों में कलेक्टर के बाद एडीएम को समन्वयक बनाया गया, लेकिन केवल जयपुर में एक निजी व्यक्ति डॉक्टर प्रदीप पाराशर को समन्वयक बनाया गया जो सेवानिवृत्त प्रोफेसर हैं और उनकी डॉक्टर जारोली से घनिष्ठता है। सरकारी डिप्टी समन्वयकों को दरकिनार कर जारोली ने चार लोगों को मौखिक आदेश से पाराशर के नीचे नियुक्त किया, वे भी निजी व्यक्ति हैं और इन्होंने ही संकुल में पेपर उतारकर स्ट्रांग रूम में रखवाए और इनमें से एक व्यक्ति ने सील फाड़कर पेपर निकाले।
15 लाख रुपए में दिया पेपर
उन्होंने कहा कि 24 सितंबर को जब शिक्षा संकुल स्थित गोदाम में पेपर रखवाए जा रहे थे उस दौरान डीपी जारोली और पाराशर वहीं मौजूद थे। इस बात की जांच वहां से सीसीटीवी कैमरे से की जा सकती है। यहां तक कि जारोली रात को भी वहीं रुक रहे और निजी आदमियों से मुलाकात की। । उन्होंने सीधा आरोप लगाया कि जारोली और डॉ. पाराशर ने संगठित गिरोह के जरिए पेपर आउट करवाया। निजी सह समन्वयक में से ही एक ने बत्तीलाल को 15 लाख रुपए में पेपर उपलब्ध करवाया है। बत्तीलाल पकड़ में आया आएगा तो गंगापुर वाले और लक्ष्मणगढ़ वाले भी पकड़ में आएंगे। यह पकड़ में आएंगे तो जारोली और पाराशर भी पकड़ में आ जाएंगे और इनके पकड़ में आने पर बड़े लोगों के नामों का भी खुलासा होगा लेकिन वहां जाकर एसओजी हाथ खड़े कर देगी इसलिए मैं सीबाआई जांच की मांग कर रहा हूं। मेरी मांग पूरी नहीं होने तक मैं संघर्ष जारी रखूंगा।
हमेशा के लिए गायब कर दिया गया हो बत्तीलाल
उन्होंने कहा कि जयपुर के तीन सेंटर जिन्हें बोर्ड,आरपीएससी और कर्मचारी चयन बोर्ड ने ब्लैक लिस्टेड किया है उन्हें भी रीट परीक्षा का सेंटर बनाया गया और इनके कार्मिकों को भी ड्यूटी पर लगाया गया। उन्होंने संदेह जताया कि कहीं ऐसा ना ही बत्तीलाल को अब हमेशा के लिए गायब ही ना कर दिया गया हो।
हजारों ब्रॉडबैंड कनेक्शन हुए जारी
डॉ.किरोड़ी लाल मीणा ने कहा कि परीक्षा से पहले चार दिनों में राजधानी जयपुर में हजारों ब्रॉडबैंड कनेक्शन जारी हुए इनका कनेक्शन पेपर लीक से है। अगर सही तरीके से जांच की गई तो यह सच्चाई सामने आ सकती हैए इसी के जरिए पेपर लीक हुए हैं क्योंकि न क्योंकि नेटबंदी का असर ब्रॉडबैंड कनेक्शन पर नहीं होता।
डोटासरा के आरोप गलत
डॉक्टर किरोड़ी मीणा ने शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा के इस आरोप को गलत करार दिया कि भाजपा प्रदेश प्रभारी ने उन्हें डांट लगाई है। इस कारण से उन्होंने धरना समाप्त किया। उन्होंने कहा कि यह सूचना गलत है और मैं किसी की डांट से रुकने वाला व्यक्ति नहीं हूं। अन्याय के खिलाफ खड़ा होना मेरे स्वभाव में है। मीणा ने कहा कि अरुण सिंह ने मुझे पार्टी कार्यालय बुलाया था तब यह तय हुआ था कि सभी भाजपा विधायक धरना देंगे इसलिए मैं धरने से उठा। अभी पार्टी अध्यक्ष थोड़ा व्यस्त है लेकिन यह तय है कि विधायक धरना देंगे। अन्याय के खिलाफ खड़ा होना मेरा स्वभाव है। जहां भी गलत होता है मैं उसके खिलाफ खड़ा हो जाता हूं। इसकी मैंने राजनीतिक कीमत तक चुकाई है आगे भी चुकाता रहूंगा। पूरा राजस्थान इस बात का गवाह है।
भीड़ पर किए कटाक्ष पर मीणा का पलटवार
डॉक्टर मीणा ने शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा पर पलटवार करते हुए कहा कि कल के धरना प्रदर्शन में पूरी भीड़ जैसे वर्चुअल में ही बैठी हुई थी। मुख्यमंत्री ने खुद बोला है। ऐसे में आप की ओर से मेरी भीड़ पर सवाल उठाना कहां जायज है? आपकी सरकार की हालत अब ब्लैक एंड व्हाइट टीवी की तरह हो गई है जिसे जनता पसंद नहीं कर रही है। आपकी पार्टी में सिर्फ एक ही नेता है जो कलर टीवी की तरह चल रहा है।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned