scriptReservation should be implemented in judiciary - Hanuman Beniwal | न्यायपालिका में आरक्षण को किया जाए लागू-हनुमान बेनीवाल | Patrika News

न्यायपालिका में आरक्षण को किया जाए लागू-हनुमान बेनीवाल

राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के प्रमुख व नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने न्यायपालिका में आरक्षण व्यवस्था को लागू करने की मांग की।

जयपुर

Published: December 07, 2021 09:59:58 pm

नई दिल्ली. राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के प्रमुख व नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल ने न्यायपालिका में आरक्षण व्यवस्था को लागू करने की मांग की। साथ ही राजस्थान के उदयपुर, उत्तरप्रदेश के आगरा व मेरठ में हाईकोर्ट की बेंच स्थापना का मामला उठाया। जबकि न्यायपालिका में पिछड़ों, दलितों व अल्पसंख्यकों को प्रतिनिधित्व देने की मांग भी की।
hanuman beniwal
hanuman beniwal
दरअसल, बेनीवाल उच्च न्यायालय और सर्वोच्च न्यायालय न्यायाधीश (वेतन और सेवा की शर्तें) संशोधन विधेयक, 2021 की चर्चा में भाग ले रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि दलित-आदिवासी-पिछड़ों और अल्पसंख्यकों की बात नहीं सुनी जाती। उन्हें न्याय नहीं मिलता और जहां खुद पारदर्शिता नहीं है, वहां हम न्याय की अपेक्षा कैसे कर सकते हैं। उन्होंने सवाल किया कि लोकतंत्र के दो स्तंभ विधान पालिका और कार्यपालिका में आरक्षण है तो न्यायपालिका में क्यों नहीं? कोलीजियम पद्धति में न्यायाधीश ही न्यायाधीश की नियुक्ति करते हैं।
उन्होंने आरक्षण जैसी समावेशी व्यवस्था को न्यायपालिका में तरजीह नहीं दी गई? उन्होंने कहा कि विभिन्न उच्च न्यायालयों में 400 से अधिक रिक्तियां हैं। यह स्थिति तब और चिंताजनक हो जाती है जब निचली अदालतों में करीब 3.8 करोड़, उच्च न्यायालयों में 57 लाख से अधिक तथा उच्चतम न्यायालय में एक लाख से अधिक मामले लंबित हैं। सांसद ने कहा कि राजस्थान उच्च न्यायालय में न्यायाधीश के पद पर पिछड़े वर्ग का कोई व्यक्ति नियुक्त नहीं है।
-जन-धन खातों से राशि काटना ठीक नहीं
शून्यकाल में बेनीवाल ने प्रधानमंत्री जन-धन योजना के खाता धारकों से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया सहित अन्य बैंकों के डिजिटल ट्रांजेक्शन के नाम पर गलत रूप से काटे गए शुल्क का मुद्दा उठाया। उन्होंने आईआईटी बॉम्बे की ट्रांजेक्शन शुल्क की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि 2017 से 2019 तक महीने में 4 से अधिक डिजिटल लेन देन पर 12 करोड़ जन धन खाता धारकों से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने164 करोड़ रुपए वसूले। इस राशि को खाता धारकों को लौटाने की मांग की।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव

बड़ी खबरें

बेटी का जुल्म-बुजुर्ग ने जेब से निकालकर बताई दाढ़ी और नाखून, छलक उठे गम के आंसूयहां PWD का बड़ा कारनामा, पेयजल पाइप लाइन के ऊपर ही बना रहे ड्रेनेज सिस्टम, गुस्साए विधायक ने की सीएम से शिकायतमोदी की लीडरशिप से वैक्सीन का रिकार्ड बनाया भारत ने: पूनियाUttar Pradesh Assembly Elections 2022: जानें बीजेपी में भगदड़ का पूर्वांचल की सियासत पर क्या होगा असरसीएम और यूडीएच मंत्री के जिलों में पार्षदों का मनोनयन, जयपुर को अब भी इंतजारमंगल ग्रह 42 दिन तक धनु राशि में करेगा गोचर, 7 राशि वालों का चमकाएगा करियरUP Elections : अखिलेश का मुकाबला करने के लिए बीजेपी ने 'हिंदू पहले' की नीति अपनाईभाजपा की सूची जारी होने के बाद प्रत्याशी के विरोध में पूर्वांचलियों का हंगामा, झड़प के बाद आधा दर्जन हिरासत में
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.