प्रदेशवासियों को अब चुकाने होंगे पानी के बकाया बिल

प्रदेशवासियों को अब पानी के बकाया बिलों का पूरा भुगतान करना होगा। बकाया बिलों की राशि का आगामी बिलों में समाहित की जाएगी। राज्य सरकार ने गुरुवार को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। इस आदेश के साथ ही प्रदेश में पानी के बिलों को माफ करने की अटकलों पर विराम लग गया है। विपक्षी दल प्रदेश में बिलों को माफ करने करने के लिए सरकार पर दबाव बना रहे थे।

By: Prakash Kumawat

Updated: 02 Jul 2020, 08:18 PM IST

प्रदेशवासियों को अब चुकाने होंगे पानी के बकाया बिल

आगामी महीनों के बिलों में बकाया राशि की जाएगी समाहित
मार्च और जून की बकाया राशि जुलाई के बिल में जोड़ी जाएगी
अप्रेल की बकाया राशि अगस्त के बिल में शामिल की जाएगी की जाएगी
मई के बिल की राशि सितंबर के बिल में समाहित की जाएगी
राज्य सरकार ने जारी किए आदेश
लॉकडाउन के चलते सरकार ने स्थगित की थी बिलों की वसूली


प्रकाश कुमावत...जयपुर । प्रदेशवासियों को अब पानी के बकाया बिलों का पूरा भुगतान करना होगा। बकाया बिलों की राशि का आगामी बिलों में समाहित की जाएगी। राज्य सरकार ने गुरुवार को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। इस आदेश के साथ ही प्रदेश में पानी के बिलों को माफ करने की अटकलों पर विराम लग गया है। विपक्षी दल प्रदेश में बिलों को माफ करने करने के लिए सरकार पर दबाव बना रहे थे।
कोरोना वायरस से फैली महामारी के मद्देनजर किए गए लॉकडाउन के दौरान मुख्यमंत्री के निर्देश पर बिलों की वसूली स्थगित की गई थी। पहली बार तीन अप्रेल को मार्च और अप्रेल के बिलों को स्थगित करने के आदेश जारी किए गए थे। इसके बाद 6 जून को मई के बिलों का भुगतान स्थगित किया गया था। इसके साथ ही इन तीन महीनों के बिलों की राशि का भुगतान आगामी महीने के बिल में समाहित करने के आदेश दिए गए थे।
चूंकि यह निर्णय मुख्यमंत्री के स्तर पर किया गया था। इसलिए बिलों की वसूली को लेकर पहले मुख्यमंत्री के स्तर पर चर्चा की गई। इसके बाद जुलाई , अगस्त व सितंबर के बिल में इन बकाया बिलों की राशि समाहित करने का निर्णय किया गया है।

मुख्यमंत्री स्तर पर मिली मंजूरी के बार गुरूवार जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के प्रमुख शासन सचिव राजेश यादव ने बकाया बिलों की राशि की वसूली के आदेश जारी कर दिए हैं। उनके आदेशानुसार अब मार्च और जून की बकाया राशि जुलाई के बिल में जोड़ी जाएगी। इसी तरह अप्रेल की बकाया राशि अगस्त के बिल में शामिल की जाएगी की जाएगी
तथा मई के बिल की राशि सितंबर के बिल में समाहित की जाएगी।

Prakash Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned