Air Strike 2019: सेवानिवृत सैन्य अधिकारी बोले- 'एक के बदले दस, तब ही मिलेगी आतंक के खिलाफ युद्ध में जीत'

Air Strike 2019: सेवानिवृत सैन्य अधिकारी बोले- 'एक के बदले दस, तब ही मिलेगी आतंक के खिलाफ युद्ध में जीत'

neha soni | Publish: Feb, 28 2019 04:28:15 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

'एक के बदले दस, तब ही मिलेगी आतंक के खिलाफ युद्ध में जीत'

इतिहास में पहली बार घुसकर मारा
इतिहास में पहली बार पाक में घुसकर आतंकियों के ठिकाने ध्वस्त किए। संदेश साफ है, भारत अब हमले बर्दाश्त नहीं करेगा, घर में घुसकर मारने से नहीं हिचकेगा। आतंकी अब कहीं भी सुरक्षित नहीं हैं। पाक का समर्थन करने वालों की भी मानसिकता बदली है। न्यूक्लीयर अटैक हुआ तो पाकिस्तान दुनिया के नक्शे में ही नहीं दिखेगा।

-कर्नल देवानंद लोहामरोड़

पाक में भय कायम रखे भारत
आतंकवादियों के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक का निर्णय रक्षात्मक था। क्योंकि वहां आतंकी थे, जो भारत को नुकसान पहुंचाने की तैयारी में थे। सरकार ने बेहतरीन निर्णय किया, एयरफोर्स ने बहुत बड़ा संदेश दिया है। पाकिस्तान में भारत भय कायम रखे, एक के बदले 10 की सोच से कार्रवाई करता रहे। तब ही आतंक के खिलाफ युद्ध में जीत मिलेगी।

-कर्नल राजेश भूकर

अलर्ट-रिप्लाइ मोड में रहे भारत
भारत कब तक कायराना हमले बर्दाश्त करता? सेना को छूट मिलते ही एयर स्ट्राइक की गई। बचाव व अधिकार के तहत जो किया, अच्छा किया। अब भारत को अलर्ट व रिप्लाइ की स्थिति में रहना होगा। सरकार, सेना, सुरक्षा एजेंसियां ही नहीं बल्कि जनता भी अलर्ट रहे। कुछ भी संदिग्ध नजर आए तो तत्काल पुलिस को सूचित करें।

-कर्नल पूरण मीणा

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned