विधायक के इस रवैये से वीरांगनाएं हो गई खफा, बिना सम्मान के ही लौट गई

विधायक के इस रवैये से वीरांगनाएं हो गई खफा, बिना सम्मान के ही लौट गई

Deendayal Koli | Updated: 25 Jun 2018, 01:31:09 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

सीकर जिले के श्रीमाधोपुर कस्बे में वीरांगनाओं का होना था सम्मान

जयपुर

वीरांगना सम्मान समारोह से श्रीमाधोपुर विधायक को वापस लौट जाना उस समय महंगा पड़ गया जब वीरांगनाएं भी बिना सम्मान करवाए ही चली गईं। जब मामला तूल पकड़ने लगा तो विधायक को वापस कार्यक्रम स्थल पर लौटना पड़ा लेकिन तब तक बहुत देर हो गई थी और वीरांगनाएं जा चुकी थीं। दरअसल, सीकर जिले के श्रीमाधोपुर कस्बा स्थित बागरिवास ग्राम पंचायत में रविवार को वीरांगना सम्मान समारोह आयोजित किया गया था। इसमें कई वीरांगनाओं को बुलाया गया था जिनका विधायक द्वारा सम्मान किया जाना था। तय समय पर पहुंचे विधायक झाबरसिंह खर्रा ने स्मारक पार्क में एक कमरे की आधारशिला भी रखी। इसके बाद सम्मान समारोह शुरू होना था लेकिन विधायक सम्मान किए बिना ही लौट गए।

आयोजकों के फूल गए हाथ-पांव

बिना सम्मान किए ही विधायक के वापस लौट जाने से वीरांगनाएं खफा हो गई। इससे आयोजकों के भी हाथ-पांव फूल गए। नाराज वीरांगनाएं भी कार्यक्रम से वापस जाने लगी तो आयोजकों ने उन्हें रोकना चाहा लेकिन वे नहीं मानी। उनका कहना था कि जब विधायक के पास समय नहीं है तो उनका कार्यक्रम में आना निरर्थक है। इसके बाद बात धीरे-धीरे विधायक तक पहुंच गई। इससे विधायक भी कश्मकश की स्थिति में फंस गए। उनको लगा कि मामला ज्यादा न बढ़ जाए तो वह कार्यक्रम में वापस आ गए लेकिन तब तक वीरांगनाएं जा चुकी थी।

विधायक ने कहा, समय पर नहीं आईं वीरांगनाएं

इधर, विधायक झाबरसिंह खर्रा का कहना था कि कार्यक्रम में वीरांगनाएं तय समय पर नहीं पहुंच पाई थी। इससे सम्मान समारोह समय पर शुरू नहीं हो पाया और मुझे निर्धारित अन्य कार्यक्रम में जाना था। लेकिन जब बाद में पता चला कि वीरांगनाएं आ गई हैं तो मैं वापस आ गया।

एक ही वीरांगना हुई सम्मानित

विधायक के वापस आने के बाद वीरांगनाएं कार्यक्रम से चली गई थी लेकिन वीरांगनाओं को वापस बुलाने की कोशिश भी की गई। लेकिन वीरांगनाएं नहीं आना चाहती थी। हालांकि कार्यक्रम में शहीद सुल्तान सिंह की वीरांगना सजना देवी मौजूद थी। ऐसे में विधायक को उन्हीं का सम्मान करके संतोष करना पड़ा।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned