कलक्टर्स को राजस्व मंत्री का आदेश, दो दिन में अपलोड करें गिरदावरी रिपोर्ट

टिड्डी प्रकोप से पीड़ित किसानों को सरकार जल्द देगी मुआवजा, सीमावर्ती जिलों के कलक्टर्स से वीडियों कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने की चर्चा

जयपुर। प्रदेश के कई सीमावर्ती जिलों में टिड्डी के प्रकोप से पीड़ित किसानों को जल्द मुआवजा देने के मुख्यमंत्री के आदेश के बाद राजस्व मंत्री हरीश चौधरी ने अधिकारियों को दो दिन में गिरदावरी रिपोर्ट अपलोड करने के निर्देश दिए हैं।

मंगलवार को सचिवालय में 6 जिलों के कलक्टर्स के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए राजस्व मंत्री ने टिड्डी प्रभावित 6 जिलों के कलेक्टर को गिरदावरी रिपोर्ट जल्द देने के निर्देश दिए हैं, ताकि प्रभावित किसानों को जल्द मुआवजा दिया जा सके। इस दौरान हरीश चौधरी ने सभी जिला कलेक्टर से कहा कि प्रदेश की गहलोत सरकार किसानों की समस्याओं को लेकर लेकर गंभीर है।

जिस तरीके से पिछले दिनों पश्चिमी राजस्थान में टिड्डी दल के प्रकोप से किसानों की फसल नष्ट हुई है, उससे किसानों को राहत देने के लिए सरकार उन्हें जल्द मुआवजा देगी। ऐसे में सभी जिला कलक्टर अपने अपने क्षेत्र के तहसीलदार और पटवारी को अगले 2 दिन में गिरदावरी रिपोर्ट का कार्य पूर्ण करके रिपोर्ट भिजवाने के लिए निर्देश दें।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार की तरफ से मुआवजे के लिए फाइल राज्य निर्वाचन आयोग के पास अनुमति के लिए भेजी गई है, जहां से अनुमति मिलने के साथ ही सभी किसानों को मुआवजा दिया जाएगा।


गौरतलब है कि सीमावर्ती जिलों बीकानेर, जोधपुर, पाली, बाड़मेर, जैसलमेर और जालौर के करीब 700 गांवों में टिड्डी के प्रकोप से किसानों की लाखों हेक्टेयर फसल नष्ट हो गई थी। टिड्डी प्रभावित क्षेत्रों का पिछले दिनों मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दौरा किया था और शनिवार को सीएम अशोक गहलोत ने सीएमओ में उच्च स्तरीय बैठक कर टिड्डी प्रभावित किसानों को जल्द मुआवजा जारी करने के निर्देश दिए थे। सीएम गहलोत के निर्देश के बाद विभाग भी पूरी तरह से हरकत में आ गया है।

firoz shaifi Desk
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned