ड्यूटी पर निकले ASI की सड़क हादसे में हुई मौत, मिनी ट्रक के टक्कर के बाद गिर पड़ा जवान

मिनी ट्रक के टक्कर मारने के बाद रघुवीर सिंह सड़क पर गिर गए। जिसके बाद घटनास्थल के आसपास लोगों की भीड़ जमा हो गई।

By: पुनीत कुमार

Published: 11 Dec 2017, 07:43 PM IST

 

जयपुर। राजधानी में एक बार फिर सड़क हादसे में एक पुलिस की जान चली गई। घर से दफ्तर के लिए जा रहे पुलिस कमिश्नरेट के एएसआई की मौत एक मिनी ट्रक के चपेट में आने से हो गई। डीसीपी आॅफिस में तैनात थानेदार रघुवीर सिंह सुबह घर से दफ्तर के लिए अपनी बाइक से जा रहे थे कि तभी करीब दस बजे विद्याधरनगर बस डिपो के सामने सीकर रोड पर एक मिनी ट्रक ने उन्हें पीछे से टक्कर मार दी। जिस कारण उन्हें गंभीर चोट आई।

 

Read More: बीजेपी को लगा तगड़ा झटका, कांग्रेस पार्षद निर्विरोध अध्यक्ष निर्वाचित

 

मिनी ट्रक के टक्कर मारने के बाद रघुवीर सिंह सड़क पर गिर गए। जिसके बाद घटनास्थल के आसपास लोगों की भीड़ जमा हो गई। तो वहीं वहां मौके पर मौजूद लोगों ने उन्हें उठाकर एएसआई को लेकर नजदीक सोनी मणिपाल अस्पताल लेकर पहुंच गए, इस दौरान थानेदार को होश भी नहीं थी। जबकि इससे पहले घटना के तुरंत बाद ही स्थानीय लोगों ने इसकी जानकारी उनके परिजनों और पुलिस को मोबाइल फोन के जरिए पहले ही दे दी थी। अस्पताल में अचेत अवस्था में पहुंचे थानेदार की डॉक्टरों ने तुरंत जांच की लेकिन उन्हें चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

 

Read More: राजस्थान क्रिकेट के लिए बड़ी खबर- BCCI ने आरसीए से हटाया प्रतिबंध, मिलेगा ये बड़ा फायदा...

 

जानकारी के मुताबिक, चिकित्सकों द्वारा मृत घोषित किए जाने के बाद उनका शव पुलिस की देखरेख में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। जिसके बाद उनके परिजनों को सौंपा गया। जिसके बाद डीसीपी कार्यालय तैनात थानेदार के शव का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया। गौरतलब है कि प्रदेश में आए दिन तेज रफ्तार और सड़क हादसों में लोगों की मौत की खबरें आती रहती है, तो वहीं इससे पुलिस निपटने के लिए प्रदेश सरकार की कोशिशें हमेशा विफल हो जाती है, जिसे रोकना उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती बना हुआ है। तमाम प्रयासों के बाद भी सड़क हादसों पर लगाम नहीं लग पा रही।

पुनीत कुमार
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned