रोड लाइटें बंद होने से रात को पसर जाता है अंधेरा, अस्पताल जाने में भी लगता है 'डर'

रोड लाइटें बंद होने से रात को पसर जाता है अंधेरा, अस्पताल जाने में भी लगता है 'डर'
रोड लाइटें बंद होने से रात को पसर जाता है अंधेरा, अस्पताल जाने में भी लगता है 'डर'

Anant Kumar Das | Updated: 06 Oct 2019, 09:37:12 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

नागौर शहर से करीब चार किलोमीटर दूर बीकानेर रोड पर स्थित जेएलएन राजकीय अस्पताल में लोगों को जाने में डर लगने लगा है। दरअसल, यहां उपचार के लिए जाने वाले मरीजों या फिर परिजनों को हादसे का डर सताता रहता है। कृषि मंडी से जेएलएन अस्पताल तक नगर परिषद की ओर लगाई गई रोड लाइटों में से अधिकतर बंद पड़ी हैं।

नागौर शहर से करीब चार किलोमीटर दूर बीकानेर रोड पर स्थित जेएलएन राजकीय अस्पताल में लोगों को जाने में डर लगने लगा है। दरअसल, यहां उपचार के लिए जाने वाले मरीजों या फिर परिजनों को हादसे का डर सताता रहता है। कृषि मंडी से जेएलएन अस्पताल तक नगर परिषद की ओर लगाई गई रोड लाइटों में से अधिकतर बंद पड़ी हैं। पिछले काफी समय से हाइवे रोड मरम्मत नहीं होने से सड़क भी खस्ताहाल है, ऐसे में दुपिया और तिपहिया वाहन चालकों के लिए तो यहां रात को चलना हादसों को बुलावा देने से कम नहीं है।

आमतौर पर पीडब्ल्यूडी बारिश के बाद सड़कों की मरम्मत करवाती है, लेकिन इस बार सड़क की मरम्मत करवाना तो दूर, गड्ढ़ों को भी नहीं भरा जा रहा है। शहर में बीकानेर रेलवे फाटक और मानासर फाटक पर आरओबी का काम चलने के कारण पिछले करीब दो साल से डीडवाना बाइपास रोड पर यातायात भार बढ़ गया है। ज्यादातर भारी वाहन इसी रास्ते गुजरते हैं, जिसके कारण सड़क जर्जर हो चुकी है। स्थानीय लोगों का कहना है कि सड़क टूटी होने से आए दिन दुर्घटनाएं होती हैं, इसको लेकर लोगों ने जिला कलक्टर को ज्ञापन भी दिया था, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।


स्थानीय लोगों का कहना है कि अधिकारी केवल आश्वासन देते हैं। जबकि टूटी सड़क और रोड लाइटों के अभाव में तीन-चार बड़े हादसे हो चुके हैं। बीकानेर जाने वाले हाइवे की सड़क पर रात के समय कई बार हादसे होते हैं, जिसकी मुख्य वजह रोड लाइट न होना है। यहां बिजली के खम्भे जरूर लगे हैं, लेकिन लाइट नहीं है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned