scriptजयपुर—दिल्ली हाईवे पर ट्रेलर में घुसी रोडवेज, मां का हाथ तो बच्चे का पैर कटा, पिता की भी मौत, 10 से ज्यादा सवारियां सीरियस कंडीशन में | Roadways collided with a trailer on Jaipur-Delhi highway, among the dead were mother's hand and child's leg, father also died, more than 10 passengers in serious condition | Patrika News
जयपुर

जयपुर—दिल्ली हाईवे पर ट्रेलर में घुसी रोडवेज, मां का हाथ तो बच्चे का पैर कटा, पिता की भी मौत, 10 से ज्यादा सवारियां सीरियस कंडीशन में

जयपुर—दिल्ली हाईवे पर आज सुबह दर्दनाक हादसा हुआ।

जयपुरJul 08, 2024 / 09:37 am

Manish Chaturvedi

जयपुर। जयपुर—दिल्ली हाईवे पर आज सुबह दर्दनाक हादसा हुआ। तड़के चार बजे तेज स्पीड में रोडवेज बस आगे चल रहे ट्रेलर में घुस गई। इस दौरान बस में लोग नींद में थे। जब हादसा हुआ तो चंद समय में सब कुछ खत्म हुआ। लोगों की नींद खुली तो वह खून में लथपथ थे। कई लोग इतने सीरियस कंडीशन में है कि वह अब तक अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जुझ रहें है। इन सबके बीच एक परिवार ऐसा भी रहा। जो सीधे मौत के मुंह में चला गया। पति—पत्नी और पुत्र यानी की तीन जनों की इस हादसे में दर्दनाक मौत हो गई। हादसा इतना दर्दनाक था कि जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो उन्हें बस में मरने वाले बच्चे का पैर अलग से उठाना पड़ा तो महिला का शरीर से अलग होकर गिरा हुआ हाथ समेटना पड़ा।
शाहपुरा में अलवर कट के पास पुलिया पर आज सुबह यह हादसा हुआ। एक रोडवेज बस आगे चल रहे ट्रेलर में घुस गई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बस ड्राइवर साइड से पूरी तरह खत्म हो गई। इस हादसे में एक ही परिवार के 3 लोगों की मौत हो गई। जबकि 20 अन्य घायल हो गए। इनमें से 11 की हालत गंभीर है। सूचना पर डीएसपी उमेश निठारवाल व थानाधिकारी रामलाल मीणा मौके पर पहुंचे। पुलिस ने गंभीर घायलों को जयपुर के सवाई मानसिंह अस्पताल और निम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं, 10 घायलों को शाहपुरा के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया।
पुलिसकर्मी चाय पी रहा था, हादसा देखा तो दौड़ा

जहां हादसा हुआ उससे कुछ ही दूरी पर शाहपुरा थाने के हेड कॉन्स्टेबल सुभाष चाय पी रहे थे। हादसा होते ही वे मौके पर पहुंचे। सुभाष ने बताया कि रोडवेज बस सीमेंट से भरे ट्रेलर में पीछे से घुसी थी।हालात देख हम हक्के-बक्के रह गए। सभी सवारियों को बस से बाहर निकाल शाहपुरा हॉस्पिटल पहुंचाया। बस दिल्ली से जयपुर जा रही थी। मेरी नौकरी के दौरान मैंने पहली बार ऐसा भीषण हादसा देखा। एक यात्री प्रीतम अग्रवाल का पैर कटकर अलग हो गया। ट्रेलर की सीमेंट के कट्‌टे उछलकर बस में गिरे। कट्‌टे के नीचे दबा पैर मिला। दो मोबाइल भी मिले हैं।
क्रेन मंगवाकर काटा बस को, दबे लोगों को बाहर निकाला..

हादसे के वक्त अधिकतर यात्री नींद में थे। बस से लोगों को निकालने के लिए शाहपुरा से क्रेन मंगवानी पड़ी। क्रेन ड्राइवर कैलाश ने बताया- बस का ड्राइवर साइड का हिस्सा आगे से पीछे तक क्षतिग्रस्त हो गया। क्रेन से बस को हटाया और फिर लोगों को निकाला। लोग बेहोश पड़े थे। हालात ऐसे थे कि देखा नहीं गया। लगता है ड्राइवर को झपकी आने से हादसा हुआ है।
बस चालक की गलती से हुआ हादसा..

शाहपुरा थानाधिकारी रामलाल मीणा ने बताया कि बहरहाल लग रहा है कि बस चालक की गलती है। लेकिन मामले की जांच की जा रही है। घायलों को शाहपुरा के उपजिला अस्पताल में भर्ती कराया है। हादसे में दिल्ली निवासी विजय अग्रवाल (40) उसकी पत्नी टीना अग्रवाल (35) और बेटे प्रीतम अग्रवाल (16) की मौत हो गई। प्रीतम का पैर कटकर अलग हो गया था। 11 को गंभीर हालत में जयपुर रेफर किया गया है।
सवारियों में मच गई चीख पुकार..

हादसे के वक्त बस में करीब 40 सवारियां थी, जिनमें से अधिकतर गहरी नींद में सो रहे थे। तभी बेकाबू ट्रेलर से टकराते ही बस में तेज धमाका हुआ। हादसे के बाद मौके पर चीख पुकार मच गई। कुछ ही देर में मौके पर भीड़ जमा हो गई। सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची। पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से घायलों को बस से बाहर निकाला और एंबुलेंस से अस्पताल भिजवाया। पुलिस की ओर से मृतकों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। जिसके बाद शव परिजनों को सुपुर्द किए जाएंगे।
हादसे के बाद लगा जाम..

हादसे के बाद जयपुर-दिल्ली नेशनल हाईवे पर जाम लग गया। करीब एक किमी तक वाहनों की कतार लग जाने से वाहन चालकों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। घायलों को अस्पताल पहुंचाने के बाद पुलिस ने क्रेन की मदद से क्षतिग्रस्त वाहनों को बीच सड़क से हटवाया। इस दौरान करीब एक घंटे तक जाम के हालात रहे। पुलिस ने जाम खुलवाकर यातायात सुचारू करवाया।

Hindi News/ Jaipur / जयपुर—दिल्ली हाईवे पर ट्रेलर में घुसी रोडवेज, मां का हाथ तो बच्चे का पैर कटा, पिता की भी मौत, 10 से ज्यादा सवारियां सीरियस कंडीशन में

ट्रेंडिंग वीडियो