राजस्थान और एमपी में बसपा दिखा रही आंख, डरी कांग्रेस, सरकार में है अहम भूमिका

राजस्थान और एमपी में बसपा दिखा रही आंख, डरी कांग्रेस, सरकार में है अहम भूमिका

Pushpendra Singh Shekhawat | Publish: May, 17 2019 08:15:00 AM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

राजस्थान में समर्थन वापसी का फैसला प्रदेश इकाई ने मायावती पर छोड़ा

शादाब अहमद / जयपुर। राजस्थान और मध्य प्रदेश में कांग्रेस सरकार को बसपा ने समर्थन दे रखा है। इसके चलते अलवर थानागाजी गैंगरेप ( Thanagazi Gang Rape ) और दलित अत्याचार मामलों में बसपा बार—बार कांंग्रेस सरकार को आंख दिखा रही है। थानागाजी मामले पर चल रही सियासत के बीच बसपा ने साफ किया है कि वह पीडि़त पक्ष के साथ है। जब तक पीडि़त पक्ष को न्याय नहीं मिल जाएगा, तब तक सरकार से बसपा संतुष्ट नहीं होगी।

 

शासन में बसपा की भूमिका अहम
राजस्थान में बसपा के 6 और मध्यप्रदेश में 2 विधायक है। दोनों ही राज्यों में बसपा ने कांग्रेस को समर्थन दिया हुआ है। राजस्थान में कांग्रेस के पास 100 और मध्यप्रदेश में 114 सीट है। पिछले कुछ सालों में कुछ राज्यों में भाजपा ने विधायकों के दल-बदल के दम पर खुद की सरकारें बनवाई है। कांग्रेस के लिए यह डर और आशंका इन दोनों राज्यों में बनी हुई है। भाजपा के विधायक वासुदेव देवनानी ( Vasudev Devnani ) दावा भी कर चुके हैं कि 23 मई के बाद राजस्थान में सियासी उलटफेर हो सकता है। भाजपा के सम्पर्क में कांग्रेस और अन्य दलों के विधायक है। ऐसा कुछ होने पर बसपा की भूमिका दोनों राज्यों में अहम रह सकती है।

 

सुप्रीमो ले रही हैं पल—पल की जानकारी
बसपा के राष्ट्रीय महासचिव और प्रदेश प्रभारी मुनकाद अली ने कांग्रेस पर घडिय़ाली आंसू बहाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि दलितों पर अत्याचार के मसले पर पार्टी ने रिपोर्ट बसपा प्रमुख मायावती ( Mayawati ) को भेज दी है। साथ ही राज्य सरकार से समर्थन वापसी या जारी रखने का फैसला भी मायावती पर छोड़ दिया है। अलवर गैंगरेप की पल-पल का फीडबैक मायावती को दिया गया है।

 

भाजपा से मिलने का इरादा नहीं
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ( PM Narendra Modi ) इस मसले पर बसपा को राजस्थान में कांग्रेस से समर्थन वापसी की सलाह दे चुके हैं। इस बीच बसपा के राष्ट्रीय महासचिव अली ने बताया कि भाजपा के नेता झूठ बोलते हैं और अफवाह फैलाते हैं। हमारा भाजपा के साथ जाने को न तो कोई संभावना है और न ही कोई ऐसा इरादा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned