बंद से जनजीवन अस्‍त-व्‍यस्‍त, किसी को नहीं मिला दूध तो कोई सब्‍जी को तरसा

Dharmendra Singh | Publish: Sep, 06 2018 01:33:16 PM (IST) | Updated: Sep, 06 2018 01:55:51 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर
एसटी/एससी एक्ट में किए गए संशोधन के विरोध में भारत बंद से लोगों की दिनचर्या खासी प्रभावित हुई। राजधानी के ग्रामीणों इलाकों में तो बंद का व्‍यापक असर दिखाई दिया। व्यपारियों ने सुबह से अपने प्रतिष्ठान बंद रखकर बंद का समर्थन किया। जयपुर जिले के ग्रामीण इलाके चौमूं, बस्सी, पावटा, कोटपूतली के साथ ही दौसा व बांदीकुई में भी दुकानें बंद रही। प्रदेश की मंडियों पर भी बंद का व्‍यापक असर रहा। सब्जी मंडी बन्द रहने से सुबह के समय गांवों से नीलामी में सब्जी बेचने आने वाले किसानों को काफी परेशानी हुई। बंद समर्थकों ने दस से चार बजे तक प्रतिष्ठान बंद रखने का आह्वान किया है।

जयपुर शहर में बंद का मिला-जुला असर
जयपुर शहर में बंद का मिला-जुला असर देखने को मिला है समता आंदोलन के प्रदेश संयोजक पाराशर नारायण सहित अन्य कुछ नेताओं को हिरासत में लिया गया है। भारत बंद को लेकर ब्राह्मण, अग्रवाल, राजपूत, कायस्थ सहित कई समाजों ने समर्थन दिया है। व्यापार संगठन और व्यापार मंडलों ने भी बंद को समर्थन किया है। भारत बंद को समर्थन दे रहे संगठनों और समितियों के पदाधिकारियों का कहना है कि शांतिपूर्ण तरीके से जयपुर बंद होगा, जो दुकानदार बंद नहीं करेंगे उन्हें गुलाब का फूल देकर समर्थन मांगा जाएगा। राजस्थान व्यापार महासंघ ने भी बंद का समर्थन किया है। बंद की वजह से बाजारों में मिला-जुला असर देखने को मिल रहा है।
कई निजी स्कूलों में छुट्टी
एससी/एसटी एक्ट संशोधन के विरोध में आज भारत बंद है। संशोधन से सवर्ण व ओबीसी से जुड़े कई संगठन नाराज हैं। बंद के चलते जयपुर शहर के कई निजी स्कूलों ने आज स्कूलों की छुट्टी कर दी। वहीं कई स्कूल खुले भी हैं। कई स्कूलों में आज प्रेक्टिकल भी हैं। इस वजह से उन्होंने छुट्टी नहीं की। बंद के दौरान एहतियात के तौर पर बहुत से अभिभावकों ने स्वेच्छा से भी अपने बच्चों को स्कूल नहीं भेजा।
दस से ज्यादा जिलों में तैनात बटालियन
बंद को देखते हुए शहर के उन दस जिलों में एसटीएफ और आरएसी की बटालियन तैनात की गई है। इन जिलों में करौली, जोधपुर, बारां, उदयपुर, भरतपुर, धौलपुर, दौसा जैसे जिले शामिल हैं। इन जिलों में से कुछ जिलों में तो बुधवार शाम पुलिस ने फ्लैग मार्च भी निकाला है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned