पकड़ा गया आरपीएस की महिला रिश्तेदार का हत्यारा, डेढ़ साल से था फरार

लूट और हत्या की वारदात में शामिल पारदी गिरोह के एक बदमाश को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। वांछित बदमाश पर 25 हजार रुपए का इनाम घोषित था

राजधानी के मानसरोवर थाना पुलिस ने डेढ़ साल पहले की लूट और हत्या की वारदात में शामिल पारदी गिरोह के एक बदमाश को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। वांछित बदमाश पर 25 हजार रुपए का इनाम घोषित था। वारदात की शिकार महिला राजस्थान पुलिस के एक अधिकारी की रिश्तेदार थी।
डीसीपी योगेश दाधीच ने बताया कि गिरफ्तार बदमाश मध्यप्रदेश के सिपरीकर गांव हाल रतलाम में बजरंग नगर निवासी ढाण्डी उर्फ सुल्तान पारदी (23) को गिरफ्तार किया गया है। राजस्थान पुलिस ने आरोपी ढांडी पर २५ हजार का इनाम घोषित कर रखा है। 15 सितंबर 2018 को आधी रात में मानसरोवर के भृगुपथ स्थित 20/38 में खिड़की की ग्रिल तोड़कर मकान में घुसे और कमरे में सो रहे हर्षित उर्फ शौर्यवर्धन को बंधक बनाकर दूसरे कमरे में सो रही बुजुर्ग महिला पुष्पलता बिसारिया की हत्या कर मकान से नकदी, जेवरात और कीमती सामान लूट ले गए थे।

ये हो चुके थे पहले ही गिरफ्तार

घटना आरपीएस संजीव भटनागर के ससुराल में हुई और मृतका पुलिस अधिकारी की सास लगती थी। पुलिस ने इसमें कई टीमें लगाकर पारदी गैंग के चन्ना उर्फ जोनी निवासी कच्ची बस्ती गुर्जर की थड़ी में बाबा रामदेव नगर के गणेश मंदिर
के पीछ,े मध्यप्रदेश के रतलाम में सिमलावदा गांव निवासी शक्ति, शिवपुरी के गांव सेवड़ा निवासी बादाम सिंह और उसकी पत्नी गुड्डी देवी, बादाम सिंह की बेटी नन्दनी को वारदात के दो दिन बाद ही पकड़ लिया था। तभी से वारदात का मुख्य आरोपी सुल्तान उर्फ ढाण्डी फरार था।

इस टीम की मेहनत से आया पकड़ में
कमिश्नरेट की टीम ने एसआई रामसिंह, एएसआई राजेश कुमार, द्वारका प्रसाद हैडकांस्टेबल महिपाल और एससीआरबी भोपाल के एसआई रामवीर दाउ की टीम ने मिलकर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के खिलाफ मुहाना, श्यामनगर और झुंझुनूं कोतवाली थाने में नकबजनी के मामले दर्ज है।

Dinesh Gautam Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned