आरपीएससी: आरएएस सहित नई भर्तियों का इंतजार

राज्य में साल 2021 में भर्तियों की रफ्तार बढ़ सकती है। राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) को आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा सहित नई भर्तियों (New recruits) का इंतजार है। आयोग ने मुख्य सचिव (
Chief Secretary) और कार्मिक विभाग (Personnel Department) को पत्र भेजा है।

By: vinod

Published: 24 Nov 2020, 10:21 PM IST

अजमेर। राज्य में साल 2021 में भर्तियों की रफ्तार बढ़ सकती है। राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) को आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा सहित नई भर्तियों (New recruits) का इंतजार है। आयोग ने मुख्य सचिव (
Chief Secretary) और कार्मिक विभाग (Personnel Department) को पत्र भेजा है। आयोग आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा भर्ती परीक्षा सहित कॉलेज लेक्चरर, स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा, कृषि, कारागार, कनिष्ठ लेखाकार और अन्य भर्ती परीक्षाओं का आयेाजन करता है। यह भर्तियां कार्मिक विभाग, संबंधित विभाग और सरकार से अभ्यर्थना, पदों का वर्गीकरण मिलने के बाद कराई जाती है। साल 2018 में आयोग को सर्वाधिक 18 हजार भर्तियां मिली थीं। साल 2019 में 10 हजार और साल 2020 में 5 हजार भर्तियां मिलीं।
नई भर्तियों का इंतजार

साल 2021 में भी नई भर्तियां होनी हैं। आयोग की नजरें राज्य सरकार और कार्मिक विभाग पर टिकी हैं। इनमें आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा, कृषि, तकनीकी शिक्षा, चिकित्सा शिक्षा, स्कूल व्याख्याता और अन्य शामिल हैं। कार्मिक विभाग से हरी झंडी मिलते ही आयोग तकनीकी परीक्षण कर भर्तियों के लिए ऑनलाइन आवेदन मांगेगा। जैसे-जैसे आयोग को अभ्यर्थना मिलेंगी उन्हें नियमित कैलैंडर में शामिल किया जाएगा।

दिसंबर-जनवरी में यह परीक्षाएं
आयोग के अनुसार प्राध्यापक (विद्यालय) (संस्कृत शिक्षा विभाग) प्रतियोगी परीक्षा-2020 का आयोजन 14 से 18 दिसंबर तक अजमेर और जयपुर में होगा। इसी तरह सहायक वन संरक्षक एवं फॉरेस्ट रेंज ऑफिसर ग्रेड-प्रथम (वन विभाग) प्रतियोगी परीक्षा-2018 का आयोजन 18 से 20 और 22 से 26 फरवरी को होगा।

आरएएस भर्ती पर सर्वाधिक निगाहें

कार्मिक विभाग ने आयोग को आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा भर्ती परीक्षा-2018 भेजी थी। इसके बाद साल 2019 और 2020 में आरएएस की भर्ती नहीं मिली है। साल 2018 की 1051 पदों की भर्ती प्रक्रिया अभी जारी है। प्रथम चरण के साक्षात्कार दिसंबर में प्रारंभ होंगे। हालांकि कार्मिक विभाग ने आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा भर्ती परीक्षा-2017 की अभ्यर्थना भेजी थी। लेकिन एमबीसी और जाट आरक्षण के चलते 2017 के पदों को 2018 की भर्ती में शामिल किया गया था। अब आरएएस एवं अधीनस्थ सेवा भर्ती-2021 का इंतजार है। इसमें 750 से 1000 पद शामिल हो सकते हैं।

इनका कहना है

आरएएस एवं अन्य भर्तियों को लेकर मुख्य सचिव और कार्मिक विभाग को पत्र भेजने के अलावा चर्चा हुई है। जैसे ही नई भर्तियां मिलेंगी उनका परीक्षण कर आवेदन प्रारंभ किए जाएंगे।
डॉ.भूपेंद्र यादव, अध्यक्ष राजस्थान लोक सेवा आयोग

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned