राजस्थान के युवाओं को दुबई में नौकरी दिलवाएगा आरएसएलडीसी


आरएसएलडीसी ने किया आईटीईसी (एमई) के साथ समझौता
यूएई की प्लेसमेंट कंपनी है आईटीईसी (एमई)

By: Rakhi Hajela

Published: 16 Dec 2020, 07:16 PM IST

राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम ने बुधवार को यूएई की प्लेसमेंट कंपनी आईटीईसी (एमई) के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया। दुबई की प्लेसमेंट कंपनी के साथ वीडियो कॉफ्रेसिंग के माध्यम से ये एमओयू आरएसएलडीसी के अध्यक्ष नीरज. के. पवन की अध्यक्षता में किया गया। इस एमओयू के तहत मांग के अनुसार लगभग 1000 युवाओं को विभिन्न क्षेत्रों में प्रशिक्षण प्रदान कर खाड़ी देशों में रोजग़ार दिलाया जाएगा।
पवन ने अवैध प्रवास एवं अपंजीकृत रिक्रूटिंग एजेंसियों के मुद्दे पर ज़ोर देते हुए कहा कि यह पहल अपने मुख्य लक्ष्य राज्य के कुशल युवाओं को बेहतर रोजगार दिलाने के साथ—साथ अवैध प्रवास आदि जैसे गतिविधियों को भी हतोत्साहित करेगी। अक्सर फर्जी कंपनियों एवं अपंजीकृत रिक्रूटिंग एजेंसियों के झांसे में रोजग़ार के बदले लाखों पैसे देकर धोखाधड़ी का शिकार होने वाले प्रवासी श्रमिकों को राजकीय संस्था के माध्यम से अपने क्षेत्र में प्रशिक्षित होकर, प्रस्थान पूर्व प्रशिक्षण प्राप्त कर सुरक्षित रूप से विदेश जाकर नौकरी करने का मौका मिल रहा है।

आरएसएलडीसी की ओर से प्रबंध निदेशक विष्णु चरण मल्लिक ने समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए। उन्होंने बताया की वैध प्रवास की दिशा में यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण कदम है जो कि विदेश मंत्रालय के लक्ष्य प्रशिक्षित जाएं, सुरक्षित जाएं, विश्वास के साथ जाएं को सार्थक करता है। राजस्थान शुरू से ही खाड़ी देशों में प्रवासी श्रमिकों को भेजने वाला अग्रणी राज्य रहा है, यह पहली बार होगा कि सरकार की ओर से श्रमिकों एवं कार्मिकों को भेजा जाएगा। राज्य के युवाओं के लिए यह एक स्वर्णिम अवसर है जिनका उन्हें लाभ उठाना चाहिए।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned