उड़नदस्तों में फिर से लगेंगे जीपीएस, लीकेज सिस्टम रोकने की तैयारी

आरटीओ राजस्व वसूली के लक्ष्य को पूरा करने में जुटा

एक भी दस्ते पर जीपीएस सिस्टम काम नहीं कर रहा

By: Amit Pareek

Updated: 24 Jan 2021, 07:51 AM IST

जयपुर. वित्तीय वर्ष खत्म होने में अब केवल दो माह शेष बचे हैं। ऐसे में आरटीओ राजस्व वसूली के लक्ष्य को पूरा करने में जुट गया है। लीकेज सिस्टम रोकने के लिए एक बार फिर से उड़नदस्तों में जीपीएस लगाए जा रहे हैं। कुछ वर्ष पहले भी उड़नदस्तों में जीपीएस लगाए गए थे। लेकिन मेंटीनेंस के अभाव में ज्यादातर उड़नदस्तों के जीपीएस खराब हो गए। ऐसे में अब सभी उड़नदस्तों के जीपीएस की जांच करवाई जाएगी। जो दुरुस्त हो सकते हैं उन्हें ठीक करवाया जाएगा। जो पूरी तरह से खराब हैं, उन्हें बदला जाएगा। वर्तमान में एक भी उड़नदस्ते पर जीपीएस सिस्टम काम नहीं कर रहा है।

उड़नदस्ते की स्टेयरिंग से अटैच किए जाएंगे

आरटीओ राकेश शर्मा ने बताया कि जीपीएस शुरू होने के बाद उड़नदस्तों की वास्तविक लोकेशन देखी जा सकेगी। इन उड़नदस्तों की मॉनिटरिंग के लिए कंट्रोल रूम बनाया जाएगा। इससे मॉनिटरिंग आसान होगी। मुख्यालय में भी इसकी रिपोर्ट देखी जा सकेगी। इसके बाद उड़नदस्तों की बहानेबाजी खत्म हो जाएगी। वहीं सभी जिला परिवहन कार्यालयों में सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जाएंगे। इसकी सीधी मॉनिटरिंग भी आरटीओ कार्यालय में की जाएगी।

जयपुर में लगेंगे 18 जीपीएस

जयपुर शहर में 18 उड़नदस्तों पर जीपीएस लगाए जाएंगे। वहीं कोटपूतली में तीन, शाहपुरा-दूदू व चौमूं में दो-दो उड़नदस्तों पर जीपीएस लगाए जाएंगे।

Amit Pareek Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned