500 बैड के नए अस्पताल के लिए लगाए 30 नए डॉक्टर

500 बैड के नए अस्पताल के लिए लगाए 30 नए डॉक्टर

Vikas Jain | Publish: Sep, 11 2018 06:09:02 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India


- राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के अधीन होगा एक और अस्पताल
- प्रताप नगर में विवि के दूसरे अस्पताल का काम अंतिम चरण में

 

जयपुर। राजधानी के लोगों को जल्दी ही 500 पलंग क्षमता का नया मेडिकल कॉलेज अस्पताल मिलने जा रहा है। राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के संघटक मेडिकल कॉलेज के अधीन प्रताप नगर में बनाए गए नए मेडिकल कॉलेज अस्पताल भवन का काम अब अंतिम चरण में है। मंगलवार को चिकित्सा शिक्षा विभाग ने एक आदेश जारी कर जयपुरिया अस्पताल से 30 मेडिकल टीचर्स और रेजिडेंट्स को नए अस्पताल के लिए पदस्थापित किया गया है। 15 दिन में या आचार संहिता से पहले इसका लोकार्पण करवाने की तैयारी है।

विवि की तैयारी के अनुसार अस्पताल को प्रथम चरण से ही आउटडोर और इनडोर के रूप मे शुरू किया जाएग। कॉलेज प्रशासन की ओर से अस्पताल के लिए जांच मशीनों के क्रय की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। यह खरीद राजस्थान मेडिकल सर्विसेज कॉरपोरेशन (आरएमएससी) के जरिये की जा रही है।

इन इलाकों को बडा फायदा, एसएमएस जयपुरिया को मिलेगी राहत

प्रताप नगर क्षेत्र में नया अस्पताल शुरू होने के बाद राजधानी का एक बडा हिस्सा बडे सरकारी मेडिकल कॉलेज अस्पताल से युक्त हो जाएगा। अभी प्रताप नगर, सीतापुरा, सांगानेर, मानसरोवर, टोंक रोड के एक हिस्से और आस पास की आबादी को करीब 15 से 20 किलोमीटर सवाई मानसिंह अस्पताल, जेके लोन, महिला, जनाना या जयपुरिया अस्पताल की ओर आना पड रहा था। लेकिन अब नजदीक ही असपताल मिलने से करीब ़10 लाख की आबादी को इसका बडा लाभ मिलेगा। साथ ही टोंक रोड की तरफ से जयपुर के नजदीकी कस्बों और गांवों के लोगों को भी इससे राहत मिलेगी। सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज और जयपुरिया अस्पताल पर से भी मरीजों का भार कुछ कम होने की संभावना है।

इन विभागों के लगाए मेडिकल टीचर

मेडिसिन - डॉ असरार अहमद, डॉ प्रहलाद धाकड ,5 सीनियर रेजिडेंट, रेजिडेंट और जूनियर रेजिडेंट

जनरल सर्जरी - डॉ महेश मंगल, डॉ संचित जैन, 6 सीनियर रेजिडेंट, रेजिडेंट और जूनियर रेजिडेंट

ईएनटी - डॉ राकेश साबू, 3 रेजिडेंट

नेत्र रोग - डॉ.निशा दुलानी, एक रेजिडेंट

ऐनेस्थीसिया विभाग - डॉ मनीष खंडेलवाल, एक रेजिडेंट

शिशु रोग विभाग - डॉ दीपेन्द्र गर्ग, डॉ मोनिशा सहाय, दो रेजिडेंट डॉक्टर

स्त्री एवं प्रसूति रोग विभाग - डॉ विनीता गर्ग, एक रेजिडेंट

दंत रोग विभाग - डॉ स्वाति चौधरी


वर्जन

यहां फेकल्टी पदस्थापित की गई है। जल्द से जल्द इसे शुरू कर दिया जाएगा।

डॉ सुधांशु कक् कड, प्राचार्य एवं नियंत्रक, एसएमएस मेडिकल कॉलेज

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned