ग्रामीण महिला उद्यमियों को मिला अपना स्टोर

ग्रामीण महिला उद्यमियों को मिला अपना स्टोर
ग्रामीण महिला उद्यमियों को मिला अपना स्टोर

chandra shekar pareek | Updated: 11 Sep 2019, 07:34:35 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

राजस्थान में काम कर रहे एक लाख 32 हजार सेल्फ हेल्प गु्रप्स की महिलाओं के लिए बुधवार का दिन एक विशेष खुशी लेकर आया। प्रदेश की महिला उद्यमियों के उत्पादों को बिचौलियों से मुक्त सीधे बिक्री के लिए स्टोर देते हुए उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने "चौपाल राजीविका स्टोर" का उद्घाटन किया है।

इस अवसर पर पायलट ने कहा कि प्रदेश की ग्रामीण महिलाओं को आर्थिक रूप से समृद्ध, सामाजिक रूप से सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाने हेतु बहुआयामी प्रयास किए जाएंगे ताकि वे परिवार व समाज के साथ-साथ प्रदेश व देश के विकास की धुरी बन सकें।
प्रदेश भर से जुटे महिला संगठन
पायलट राजस्थान ग्रामीण आजीविका विकास परिषद् की राज्य परियोजना प्रबंधन इकाई के तत्वावधान में चौपाल ग्रामीण प्रशिक्षण संस्थान में स्वयं सहायता समूह उत्पाद विक्रय के लिए प्रथम 'चौपाल राजीविका स्टोरÓ एवं 'गांधी ज्ञान केन्द्रÓ का उद्घाटन करने के बाद प्रदेश के समस्त जिलों से आई स्वयं सहायता समूहों, महिला संगठनों की पदाधिकारियों एवं सखियों को संबोधित कर रहे थे।
बिचौलियों से मुक्त बिक्री का मौका
पायलट ने कहा कि "चौपाल राजीविका स्टोर" की शुरूआत प्रदेश की ग्रामीण महिलाओं के स्वयं सहायता समूहों के बनाए उत्पादों के विक्रय के लिए बिचौलिया मुक्त विस्तृत बाजार उपलब्ध करवाने व उनके उत्पादों का सही मूल्य दिलवाने के लिए की गई है।
एमएनसी के मुकाबले में लाएंगे
पायलट ने कहा कि देश में केरल व राजस्थान पर्यटन की दृष्टि से खासा महत्व रखते हैं एवं राज्य में आने वाले देशी-विदेशी पर्यटक आकर्षक हस्तकला उत्पादों को खरीदना पसन्द करते हैं। ऐसे में जयपुर में चौपाल राजीविका स्टोर खुलने से उन्हें सही कीमत पर हस्तकला उत्पाद मिल सकेंगे व इससे प्रदेश की पर्यटन मानचित्र पर ओर अच्छी पहचान बनेगी।
महिला सशक्तिकरण के प्रयास
समारोह की अध्यक्षता करते हुए परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि राजीविका के माध्यम से प्रदेश की ग्रामीण महिलाओं के सशक्तिकरण की दिशा मेें अभिनव प्रयास किये जा रहे हैं।
सखियों ने सुनाए अनुभव
समारोह में डूंगरपुर की गीता कटारा, भीलवाड़ा की जयश्री टाक एवं टोंक निवाई की तुलसी ने महिला स्वयं सहायता समूहों से जुड़कर कार्य करने व अपने परिवार के जीवन में आए बदलावों के बारे में रोचक अनुभव सुनाए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned