राजस्थान बजट को लेकर सचिन पायलट ने सरकार के सामने रखी ये मांगें

राजस्थान बजट को लेकर सचिन पायलट ने सरकार के सामने रखी ये मांगें

Sachin Trivedi | Publish: Feb, 07 2018 10:41:20 AM (IST) | Updated: Feb, 07 2018 06:44:25 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने राज्य सरकार से आगामी बजट में किसानों के कर्ज माफी की घोषणा की मांग की है।

जयपुर। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने राज्य सरकार से आगामी बजट में किसानों के कर्ज माफी की घोषणा की मांग की है। पायलट ने कहा कि प्रदेश सरकार का यह अंतिम बजट है इसलिए भाजपा ने चुनाव के दौरान घोषणा पत्र में किसानों, महिलाओं व युवाओं से जो वादे किए गए थे उन्हें पूरा करने के लिए नीति बनाकर काम करना चाहिए।

 

महिला कर्मचारी व अधिकारी चाइल्ड केयर लीव की मांग

उन्होंने कहा कि लबे समय से महिला कर्मचारी व अधिकारी चाइल्ड केयर लीव की मांग रख रही हैं जिसे सरकार को इस बजट में स्वीकृति देनी चाहिए। यूपीए सरकार ने निर्भया कोष का गठन किया गया था जिसका पिछले चार वर्षों में कोई उपयोग नहीं हुआ है इसलिए सरकार को महिला सुरक्षा व उत्पीडऩ की शिकार महिलाओं को सहायता देने के लिए केन्द्र से मिलने वाले फंड के साथ विशेष प्रयोजन कर सुरक्षा के लिए हर जिले में वन स्टॉप क्राइसेस सेंटर स्थापित करने के लिए प्रावधान घोषित करने चाहिए।

 

बेरोजगारों को दे नौकरी, पेट्रोल व डीजल पर वैट कम करे
उन्होंने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में सरकारी सेवा में रिक्तियां हैं उनको लेकर सरकार को आगामी बजट में प्रावधान कर बेरोजगार युवाओं को नौकरी देने की घोषणा करनी चाहिए। पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस की कीमतें आसमान छू रही है जो महंगाई बढऩे का सबसे बड़ा कारण है। उन्होंने कहा कि सरकार को महंगाई नियंत्रित करने के लिए पेट्रोल व डीजल पर वैट कम कर जनता को राहत प्रदान करनी चाहिए और रसोई गैस पर राज्य के स्तर पर सब्सिडी जारी कर उपभोक्ताओं पर पड़ रहे भार को कम कर उन्हें राहत देनी चाहिए।

 

श्वेत पत्र जारी करे सरकार
उन्होंने कहा कि सरकार को श्वेत पत्र जारी कर अब तक दी गई सरकारी नौकरियों की जानकारी देने के साथ ही विभिन्न सरकारी विभागों में सामने आये भ्रष्टाचार व अनियमितताओं के मामले में अपनी जवाबदेही सुनिश्चित करनी चाहिए।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned