मुख्यमंत्री निवास पर बैठक में पायलट, कटारिया सहित 30 बड़े विधायक नदारद, जानें क्या है कारण

कांग्रेस विधायक दल की बैठक में सदन में विपक्ष पर पलटवार की बनाई रणनीति, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा : विपक्ष के हमलों का जोरदार विरोध कर जनता को सच्चाई बताएं, मुख्यमंत्री निवास पर गहलोत के साथ मंत्रियों-विधायकों ने किया रात्रि भोज

By: pushpendra shekhawat

Published: 10 Feb 2021, 10:51 PM IST

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहोलत ने कहा है कि विपक्ष के हमलों पर सत्ता पक्ष के विधायक जोरदार विरोध करें और जनता को सच्चाई बताएं। उन्होंने कहा कि हम सभी एक जुट हैं, इस कारण अब तक जो भी विपक्ष बाधाएं लेकर आया है, वो पार की हैं। ऐसे ही आगे भी एकजुट रहना है।

उन्होंने कहा कि किसान हित में केंद्र के कृषि कानून की खामियों और पेट्रोल-डीजल की बढ़ती दरों को लेकर भाजपा नेताओं को घेरें। आज क्रुड ऑयल की अंतरराष्ट्रीय कीमत में भारी गिरावट के बावजूद केंद्र जनता की जेब काट रही है।

मुख्यमंत्री, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, संसदीय कार्य मंत्री शांति धारीवाल ने विधानसभा के बजट सत्र के पहले दिन बुधवार शाम को मुख्यमंत्री निवास (सीएमआर) पर कांग्रेस विधायक दल की बैठक ली। यह बैठक करीब घंटे भर चली। बैठक में गहलोत ने कांग्रेस के नेताओं के त्याग की बातें कर विधायकों में जोश भरा। वहीं धारिवाल और मुख्य सचेतक महेश जोशी ने विधायकों को सदन में अपनाए जाने वाली रणनीति को लेकर चर्चा की।

30 विधायक नदारद

बैठक में सचिन पायलट, रघु शर्मा, लालचंद कटारिया, हरीश चौधरी सहित करीब 30 विधायक अनुपस्थित रहे। बताया जा रहा है कि ये विधायक कांग्रेस के प्रभारी अजय माकन के राहुल गांधी की यात्रा को लेकर राजस्थान दौरे पर आने के चलते किशनगढ़ गए हुए थे। इसके अलावा वे विधायक भी सीएमआर नहीं पहुंच सके, जिनके क्षेत्रों में राहुल गांधी दौरे पर आ रहे हैं।

Congress
Show More
pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned