जिस अधिकारी को दी जिम्मेदारी, वो ही हड़प गया कर्मचारियों का वेतन

जयपुर. जिस अधिकारी को कर्मचारियों के वेतन भुगतान की (Salary of employees was grabbed) जिम्मेदारी सौंपी, वो ही कर्मचारियों के वेतन को हड़प गया। इ

By: vinod sharma

Published: 28 May 2020, 11:23 AM IST

जयपुर. जिस अधिकारी को कर्मचारियों के वेतन भुगतान की (Salary of employees was grabbed) जिम्मेदारी सौंपी, वो ही कर्मचारियों के वेतन को हड़प गया। इस कारण कोरोना वायरस के दौरान एक कंपनी के सुरक्षा गार्ड व कर्मचारियों को भुगतान के लिए तरस गए है। अब फर्म के मालिक ने माणकचौक थाने में धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराके आरोपी को गिरफ्तार कर मजदूरों का पैसा दिलवाने का आग्रह किया है। माणकचौक थाने के सिटी पैलेस के पास मैसर्स यूनिवर्सल सिक्यूरिटी का ऑफिस है। जिसके संचालक हरिसिंह ने सुरक्षा गार्ड व कर्मचारियों के वेतन भुगतान के लिए सहायक सुरक्षा अधिकारी हेमसिंह राठौड को अधिकृत किया हुआ है। वेतन भुगतान के लिए तीन लाख रुपए उसे दिए गए, जिससे कर्मचारियों को समय पक भुगतान मिल सके। लेकिन सहायक सुरक्षा अधिकारी ने रिकॉर्ड में हेराफेरी कर दी तथा किसी भी सुरक्षा गार्ड व कर्मचारी को वेतन का भुगतान नहीं किया। तीन लाख रुपए को हडप गया। कर्मचारियों को वेतन नहीं मिला तो उन्होंने संचालक से शिकायत की। संचालक ने आरोपी सहायक सुरक्षा अधिकारी से पैसों के बारे में जानकारी ली तो वह संतोषजनक जवाब नहीं दे रहा है। मजदूरों के वेतन के तीन लाख रुपयों को लेकर फरार हो गया है।


मजदूरों की हालत खराब
इधर वेतन भुगतान के अभाव में सुरक्षा गार्ड व मैसर्स यूनिवर्सल सिक्यूरिटी के कर्मचारियों की हालत खराब है। जयपुर में दो वक्त की रोटी की संकट भी खड़ा होने लगा है। एक माह से बचत का पैसा खर्च कर रहे हैं। लेकिन बचत का पैसा भी अब समाप्त हो गया है। कोरोना के समय उन्हें दूसरे स्थान पर भी काम नहीं मिल रहा। जिससे वे भटकने को मजबूर है। सुरक्षा गार्ड व कर्मचारियों ने संचालक से उन्हें वेतन का भुगतान करने की मांग भी फिर से की है।

vinod sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned