आबकारी विभाग बना मुकदर्शक, राजस्थान के इस जिले में पनप रहा अवैध शराब का कारोबार

आबकारी विभाग बना मुकदर्शक, राजस्थान के इस जिले में पनप रहा अवैध शराब का कारोबार

kamlesh sharma | Publish: Sep, 07 2018 09:39:19 PM (IST) | Updated: Sep, 07 2018 09:41:47 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर। प्रदेश में जहां शराबंदी को लेकर आवाज उठ रही है। वहीं, इस कारोबार से जुड़े लोग अवैध रूप से शराब बेचने में लगे हैं। इसके चलते रात आठ बजे बाद भी शराब की धड़ल्ले से बिक्री हो रही है। अतिरिक्त आयुक्त आबकारी को सौंपे ज्ञापन में शराबबंदी का नेतृत्व कर रही पूनम अंकुर छाबड़ा ने ये बातें कही है।

 

अवैध बिक्री पर लगे रोक

शराब की अवैध बिक्री को लेकर छाबड़ा ने रोष प्रकट किया है। दरअसल, शराब दुकानदार रात के अंधेरे का फायदा उठाकर अवैध शराब का बेचान कर रहे हैं। यहां तक कि रात आठ बजे बाद भी शराब का बेचान होना आबकारी विभाग की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगा रहा है। वहीं स्थानीय पुलिस भी ऐसे मामलों पर कम ही कार्रवाई कर पाती है।

 

उड़ रही नियमों की धज्जियां

अंकुर छाबड़ा ने आरोप लगाया है कि खुलेआम आबकारी नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही है। कई जगह रात आठ बजे बाद तक खुलेआम शराब बिक्री परवान पर है। साइन बोर्ड लगाकर शराब के बेचान को प्रोत्सहित किया जा रहा है लेकिन आबकारी विभाग मूक दर्शक बनकर तमाशे देखने में लगा है। ऐसे मामलों पर रोष प्रकट करते हुए सम्पूर्ण शराबबंदी आन्दोलन जस्टिस फॉर छाबड़ा संगठन की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम अंकुर छाबड़ा ने आबकारी विभाग की अतिरिक्त आयुक्त श्रीमती रश्मि गुप्ता को ज्ञापन सौंप कार्रवाई की मांग की है।

 

आबकारी विभाग की अतिरिक्त आयुक्त से की मीटिंग

इस बीच आबकारी विभाग की अतिरिक्त आयुक्त से मीटिंग कर छाबड़ा ने प्रदेश मेंं खुलेआम शराब बिक्री पर रोक और नियमों की अवहेलना कर जगह-जगह लगे साइन बोर्ड को हटाने की मांग की है। आबकारी नियमों की पालना सुनिश्चित करने की भी बात कही। इस इस दौरान अतिरिक्त आयुक्त ने छाबड़ा की मांगों का जल्द निस्तारण करने का आश्वस्त दिया है। दरअसल, प्रदेश में शराब को लेकर कई लोगों की जान जा चुकी है। इसके चलते कई लोंगों के घर उजड़ गए हैं। अवैध और हरियाणा ब्रांड की शराब लोगों की जिंदगी लील रही है, लेकिन प्रशासन मुकदर्शक बना बैठा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned