कई बार सामने आ चुका है पुलिस और बजरी माफिया का गठजोड़, फिर भी क्याें नहीं लगती लगाम?

कई बार सामने आ चुका है पुलिस और बजरी माफिया का गठजोड़, फिर भी क्याें नहीं लगती लगाम?

Santosh Kumar Trivedi | Updated: 13 Jun 2019, 04:59:13 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

sand mining in Rajasthan : पुलिस और बजरी-खनन माफिया के गठजोड़ की पोल कई बार खुल चुकी है। फिर भी अवैध बजरी काराेबार पर क्याें नहीं लगती लगाम?

जयपुर। sand mining in Rajasthan : पूरे राजस्थान में बजरी माफिया के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। जयपुर में धमकी देकर जाने के बाद बजरी डंपर चालक ने 65 साल के किशोर सिंह को कुचलकर मौत के घाट उतार दिया।

 

हालांकि बजरी माफिया की दबंगई का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी बजरी से भरे वाहन पिछले तीन साल में ही एक एर्जन से ज्यादा लोगों को मौत की नींद सुला चुके हैं।

 

लोग पुलिस के पास बचाव के लिए जाते हैं तो पता लगता है कि पुलिस भी इनसे मिली हुई है। इस दौरान पुलिस और बजरी-खनन माफिया के गठजोड़ की पोल भी कई बार खुल चुकी है।

 

रंगे हाथ पकड़े जा चुके हैं पुलिसकर्मी
30 मई को ही कोटपूतली थाने में एसीबी ने रेड डाली तो पता चला कि खनन माफिया से थानाधिकारी बंधी लेते थे। एक गार्ड ओर एक पुलिसकर्मी को एसीबी ने दबोचा।

 

दो दिन पहले ही राजसमंद के खमनोर थानाधिकारी को एसीबी ने ट्रेप किया। बीस हजार रुपए उन्होनें बजरी के वाहनों पर कार्रवाई नहीं करने की एवज में लिए थे।

 

दौसा, सवाई माधोपुर, धौलपुर और भरतपुर में भी पुलिस के खिलाफ कार्रवाई की गई है। जयपुर में भी बजरी माफिया और पुलिस की मिलीभगत के मामले सामने आ चुके हैं।

 

पिछले तीन साल के दौरान जयपुर, टोंक, दौसा, भरतपुर, सवाई माधोपुर, उदयपुर, भीलवाड़ा समेत कई जिलों में बजरी माफिया के वाहनों तले कुचलने से पंद्रह लोगों की मौत हो चुकी है और कई लोग घायल हो चुके हैं।

 

वसुंधरा राजे के घर के बाहर भी कर चुके हैं फायरिंग

हालांकि ऐसा नहीं है कि बजरी माफिया से पुलिस परेशान नहीं है। टोंक, धौलपुर, भरतपुर और उदयपुर में तो बजरी माफिया ने पुलिसकर्मियों तक को नहीं बख्शा।

 

बेखाैफ बजरी माफिया घाैलपुर एसपी की गाड़ी पर फायरिंग कर चुके हैं। इसके अलावा धाैलपुर में पूर्व सीएम वसुंधरा राजे के घर के बाहर ही बजरी माफियाओं ने पुलिस टीम पर फायर कर दिए थे।

 

ये खबरें भी जरूर पढ़ें

SP पर फायरिंग, 2 पटवारियों के पैर तोड़े, सरपंच की जान तक ले चुके हैं बेखौफ बजरी माफिया

हत्यारा बजरी माफिया देख लेने की धमकी देकर गया था, 15 मिनट बाद आया ताे ट्रक से कुचलकर मार डाला

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned