Corona Virus Infection रोकने की कवायद में बारिश का खलल

- बारिश के कारण बाधित हुआ सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिड़काव

- नगर निगम शहर में दमकल गाड़ियों से करवा रहा है छिड़काव
- रोजाना 1 हजार लीटर सोडियम हाइपोक्लोराइट का हो रहा छिडकाव
- निगम के सभी 8 जोन एक—एक बड़ी फायर ब्रिगेड़ मशीन लगाई
- निगम की 120 टीमें शहर भर में कर रही है संक्रमण रोकने की कवायद

By: Pawan kumar

Published: 27 Mar 2020, 10:41 AM IST

जयपुर। कोरोना वायरस का फैलाव रोकने के लिए जयपुर शहर को सेनेटाइज करने की प्रक्रिया चल रही है। लेकिन रूक—रूक कर हो रही बारिश के कारण नगर निगम का सेनेटाइजेशन अभियान बाधित हो रहा है। बारिश के कारण नगर निगम की टीमें शहर में सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिड़काव नहीं कर पा रही हैं।

जानकारी के अनुसार नगर निगम ने कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए पूरे शहर में सेनेटाइजेशन शुरू किया है। शहर के आकार को देखते हुए नगर निगम ने फायर ब्रिगेड वाहनों से सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिडक़ाव करवाने का फैसला लिया है। इसके साथ ही व्हीहकल माउंटेड फोगिंग मशीनों और छोटी मशीनों से भी छिड़काव किया जा रहा है।अग्निशमन विभाग के फायरमैन अब शहर में अलग—अलग जगहों पर सोडियम हाइपोक्लोराइट दवा का छिड़काव कर रहे हैं। नगर निगम के सभी जोन उपायुक्तों को दवा छिड़काव की मॉनिटरिंग करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

रोजाना 1000 लीटर दवा छिड़काव

नगर निगम अब रोजाना 1000 लीटर सोडियम हाइपोक्लोराइट सॉल्यूशन का छिड़काव करा रहा है। इसके लिए 8 बड़ी दमकल गाड़ियां और 30 छोटी मशीनें भी नगर निगम को उपलब्ध करवाई है। निगम के जोन उपायुक्त मौके पर रहकर छिड़काव करा रहे हैं। नगर निगम प्रशासन ने शहर को संक्रमण मुक्त बनाने के लिए 120 टीमें गठित की है। निगम की टीमों ने चारदीवारी इलाके में हवामहल, सुभाष चौक, जोरावरसिंह गेट, बासबदनपुरा और ईदगाह समेत पूरे इलाके को संक्रमण मुक्त करने का अभियान चला रखा है। हालात को देखते हुए नगर निगम ने 20 हजार लीटर सोडियम हाइपो क्लोराइट सॉल्यूशन मंगवाया है। आज सुबह बारिश के कारण नगर निगम का सेनेटाइजेशन अभियान बाधित हुआ है। निगम अधिकारियों का कहना है कि बरसात थमने के बाद ही सेनेटाइजेशन प्रक्रिया शुरू हो पाएगी।

60 हैंड स्प्रे मशीनें खरीदी
नगर निगम ने शहर में सोडियम हाइपोक्लोराइट के छिड़काव के लिए 60 हैंड स्प्रे मशीनें खरीदी हैं। इसके लिए निगम ने 60 टीमें बनाई हैं, जसमें 16 टीमें जिला प्रशासन को सौंपी हैं। वहीं 10 टीमें निगम मुख्यालय में तैनात की गई हैं, जो जहां से भी शिकायत या जरूरत आएगी, वहां भेजी जाएगी। इसके अलावा हर जोन में दो—दो टीम अलग से दी गई है।

कोटा देगा हर जिले को फ्री दवा
जानकारी के अनुसार कोटा की डीसीएम कंपनी सोडियम हाइपोक्लोराइट 10 प्रतिशत सॉल्यूशन उपलब्ध करवाने को तैयार है। कंपनी प्रत्येक जिले को 5 हजार लीटर सोडियम हाइपोक्लोराइट 10 फीसदी क्षमता वाला सॉल्यूशन निशुल्क देगी। अभी बाजार में पांच लीटर का पांच प्रतिशत सोडियम हाइपोक्लोराइड सॉल्यूशन की कीमत 400 रुपए प्रति लीटर है। इस तरह पूरे राज्य में करीब 2 करोड़ कीमत का संक्रमण रोधी सॉल्यूशन नि:शुल्क उपलब्ध कराया जाएगा। नगरीय विकास विभाग ने सभी नगरीय निकायों को सेनेटाइजेशन प्रक्रिया अपनाने को कहा है।

Corona virus
Pawan kumar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned