पिछले पांच साल में प्रदेश में पहली बार जयपुर कमिश्नरेट के संजय सर्किल थाने ने बनाई जगह

  • जयपुर कमिश्नरेट में क्राइम कंट्रोल और अपराधियों को पकड़ने में संजय सर्किल थाने को पहला नंबर मिला है। इस मामले में कानोता थाना पुलिस फिसड्डी रही है।

By: Nitin Sharma

Published: 18 Dec 2018, 04:29 PM IST

जयपुर | कार्य मूल्यांकन पद्धति लागू करने के बाद पिछले पांच साल में प्रदेश में पहली बार जयपुर कमिश्नरेट के संजय सर्किल थाना पुलिस ने टॉप 35 थानों में जगह बनाई है। इससे पहले जयपुर कमिश्नरेट पुलिस का कोई भी पुलिस थाना प्रदेश के टॉप 50 थानों में जगह नहीं बना पाया था। जयपुर कमिश्नरेट में क्राइम कंट्रोल और अपराधियों को पकड़ने में संजय सर्किल थाने को पहला नंबर मिला है। इस मामले में कानोता थाना पुलिस फिसड्डी रही है। नवंबर माह की जयपुर कमिश्नरेट के सभी पुलिस थानों की कार्य मूल्यांकन रिपोर्ट जारी हुई है। उसमें टॉप-10 थानों में अकेले नॉर्थ जिले के संजय सर्किल, भट्टा बस्ती, नाहरगढ़, शास्त्रीनगर और माणक चौक समेत पांच थाने शामिल हैं। जबकि जयपुर कमिश्नरेट में ईस्ट, नॉर्थ, साउथ व वेस्ट जिले में 57 पुलिस थाने हैं। उधर, टॉप-10 फिसड्डी पुलिस थानों में ईस्ट जिले के छह पुलिस थाने कानोता, बस्सी, गांधीनगर, सांगानेर, प्रतापनगर व बजाजनगर शामिल हैं।

यह थाने हैं जयपुर शहर के टॉप-10

पड़ताल में सामने आया कि जयपुर शहर में थानों में दर्ज होने वाले प्रकरणों का निस्तारण करने, निरोधात्मक कार्रवाई करने, वारंटियों को पकड़ने, विभिन्न एक्ट में अपराधियों पर कार्रवाई करने, सीएलजी मीटिंग कर जनसहभागिता को बढ़ावा देने आैर वेरिफिकेशन करके आमजन को राहत देने में संजय सर्किल थाना पुलिस नंबर वन है। इसके बाद में लालकोठी थाना पुलिस, भट्टा बस्ती थाना पुलिस, बगरू थाना पुलिस, नाहरगढ़ थाना पुलिस, जवाहर नगर थाना पुलिस, बनीपार्क थाना पुलिस, शास्त्रीनगर थाना पुलिस, माणक चौक थाना पुलिस व हरमाड़ा थाना पुलिस का नंबर आता है।

Nitin Sharma Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned