पर्यटन मंत्री के समर्थन में आए सराफ, बोले कोरोना को लेकर चिकित्सा मंत्री नहीं गंभीर

पूर्व चिकित्सा मंत्री एवं विधायक कालीचरण सराफ भी पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह के समर्थन में उतर आए हैं। सिंह के निजी सुरक्षाकर्मी एवं आरटीडीसी स्टाफ की कोरोना रिपोर्ट में हुई गड़बड़ी पर सराफ ने कहा कि इससे पता चलता है कि सरकार कोरोना से लड़ाई में कतई गंभीर नहीं है।

By: Umesh Sharma

Updated: 03 Jun 2020, 06:14 PM IST

जयपुर।

पूर्व चिकित्सा मंत्री एवं विधायक कालीचरण सराफ भी पर्यटन मंत्री विश्वेन्द्र सिंह के समर्थन में उतर आए हैं। सिंह के निजी सुरक्षाकर्मी एवं आरटीडीसी स्टाफ की कोरोना रिपोर्ट में हुई गड़बड़ी पर सराफ ने कहा कि इससे पता चलता है कि सरकार कोरोना से लड़ाई में कतई गंभीर नहीं है।

सराफ ने कहा कि विश्वेन्द्र सिंह ने खुद इस मामले में हुई लापरवाही को सोशल मीडिया पर उजागर किया, इसके लिए उन्हें साधुवाद कि सरकार में होते हुए भी उन्होंने इस तरह की गलती को उजागर किया। वाकईमें उनके सुरक्षाकर्मी व आरटीडीसी स्टाफ की कोरोना जांच रिपोर्ट का भरतपुर में पॉजिटिव और एसएमएस हॉस्पिटल में नेगेटिव आना चौंकाने वाला है। उनके स्टाफ की कोरोना जांच में बरती गई लापरवाही से पूरे भरतपुर जिले में भय का माहौल हो व्याप्त गया है।

सराफ ने चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा पर बड़बोलेपन का आरोप लगाते हुए कहा कि वे प्रतिदिन अपनी पीठ थपथपाने में लगे रहते हैं, जबकि वास्तविकता यह है कि कोरोना की रोकथाम में पूरी तरह से असफल हो चुकी राज्य सरकार की नाक के नीचे इस तरह की गड़बड़ियां सामने आ रही है। जब सरकार में मंत्री के स्टाफ की जांच में इतनी लापरवाही हो सकती है तो आमजन के साथ क्या हो सकता है। इस घटना ने कोरोना से निपटने में सरकार के चिकित्सा इंतजामों की पोल खोल दी है। सराफ ने सरकार से घटना की जांच की मांग करते हुए कहा कि लापरवाही बरतने वाले जांचकर्ताओं पर कार्रवाई की जाए।

Corona virus COVID-19 virus
Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned