12वीं पास दे रहा था स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा, साथी की जीके थी कमजोर, इसलिए आया पेपर देने

स्कूल व्याख्याता फर्स्ट ग्रेड का जीके का था पेपर, खुद की जीके कमजोर थी, तो दोस्त को बिठाया परीक्षा में, हस्ताक्षर करवाने के दौरान पकड़ा गया फर्जी अभ्यर्थी

By: pushpendra shekhawat

Published: 06 Jan 2020, 10:17 PM IST

अविनाश बाकोलिया / जयपुर। राजस्थान की सामान्य ज्ञान कमजोर होने पर दोस्त को परीक्षा देने भेज दिया। दोस्त खुद 12वीं तक पढ़ा निकला। वीक्षक के सामने हस्ताक्षर किया तब पकड़ा गया। वीक्षक ने सेंटर पर मौजूद पुलिसकर्मियों को बुलाकर दूसरे की जगह परीक्षा देने आए युवक को पकड़वाया। इसके बाद पुलिस ने दूसरे साथी को भी गिरफ्तार किया। मंगलवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। मामला स्कूल व्याख्याता भर्ती परीक्षा का है।

प्रताप नगर थाना पुलिस ने बताया कि सोमवार को टैगोर भारती सी. सै. स्कूल केन्द्राधीक्षक अजय राज गौतम ने प्रतापनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई हैं। सोमवार सुबह स्कूल व्याख्याता फर्स्ट ग्रेड का जीके का पेपर था। हरियाणा निवासी अभ्यर्थी मोहम्मद इमरान को परीक्षा देनी थी, लेकिन उसकी राजस्थान की जीके कमजोर होने के कारण अपने दोस्त भरतपुर कामां निवासी अपने दोस्त आरिफ को परीक्षा देने केंद्र पर भेज दिया।

सुबह नौ बजे परीक्षा शुरू हुई थी। वह आइडी दिखाकर परीक्षा रूम में आ गया। ओमआर सीट में रोल नंबर व नाम भर दिया। इस दौरान वीक्षक अनिता सिंह कुल्हरी ने हस्ताक्षर के दौरान उसे पकड़ लिया। सूचना पर सेंटर में मौजूद पुलिसकर्मी ने उससे पूछताछ की तो उसने कबूला की इमरान की जगह वह परीक्षा देने आया है। उसने बताया कि इमरान केंद्र के बाहर एक गाड़ी में बैठा हुआ हैं। गाड़ी नंबर पूछकर उसे पकड़कर थाने लेकर आए। दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया हैं।

pushpendra shekhawat Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned