26 जनवरी के समारोह में शामिल नहीं होंगे स्कूली विद्यार्थी


स्वतंत्रता सैनानियों और वरिष्ठ नागरिकों को भी नहीं किया जाएगा आमंत्रित
आमंत्रित करने के स्थान पर घर भेजे जाएंगे शुभकामना कार्ड
सांस्कृतिक कार्यक्रमों की थीम होगी कोविड पर आधारित

By: Rakhi Hajela

Published: 17 Jan 2021, 03:26 PM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

हर साल की तरह इस बार भी 26 जनवरी पर समारोह का आयोजन होगा लेकिन उसमें स्कूली विद्यार्थियों को शामिल नहीं किश जाएगा, ना ही कार्यक्रम में इस बार स्वतंत्रता सैनानियों और वरिष्ठ नागरिकों को आमंत्रित किया जाएगा। राज्य सरकार ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए हैं। सरकार की ओर से जारी किए गए निर्देशों के मुताबिक स्वतंत्रता सैनानियों और वरिष्ठ नागरिकों को समारोह में आमंत्रित करने के स्थान पर उनके घर पर शुभकामना कार्ड भेजे जाएंगे जिसमें कोविड के कारण उनके स्वास्थ्य और सुरक्षा को देखते हुए आमंत्रित नहीं किए जाने की जानकारी दी जाएगी। राज्य सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग ने इस संबंध में प्रदेश के सभी संभागीय आयुक्तों और जयपुर जिला कलेक्टर को छोड़ कर अन्य सभी जिला कलेक्टर्स को निर्देश जारी किए हैं और उनसे कहा गया है कि वह सभी जिला और संभाग स्तर पर इनकी पालना सुनिश्चित करवाएं।
कोविड थीम पर होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम
गणतंत्र दिवस समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा लेकिन उनमें बच्चों को शामिल नहीं किया जा सकेगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम कोविड की थीम पर आधारित होंगे जिससे लोगों को इस वायरस के प्रति जागरुकता का संदेश दिया जा सके। स्कूल प्रशासन को समारोह का आयोजन तो करना होगा, झंडारोहण भी किया जाएगा लेकिन उसमें विद्यार्थी शामिल नहीं होंगे।

इन नियमों की करनी होगी पालना
: कार्यक्रमों में सामाजिक दूरी होगी जरूरी।
: सभी के लिए मास्क लगाना अनिवार्य ।
: कार्यक्रम स्थल पर थर्मल स्क्रीनिंग और हैंड सेनेटाइजर की प्र्याप्त व्यवस्था हो।
: कार्यक्रम स्थल पर सभी को लगाना होगा मास्क
: सांस्कृतिक समारोह में कोविड के प्रति जागरुकता दिखाने वाली झांकियों को किया जाए शामिल
: राज्य सरकार की ओर से स्वीकृत जनजागृति अभियान में शामिल जिंगल और ऑडियो का कार्यक्रम से पहले प्रसारण करवाया जाए।
: संभाग और जिला स्तर पर समारोह पूर्वक राष्ट्रीय पर्व को मनाया जाए, जिसमें अर्धसैनिक बल और पुलिस की टुकडिय़ां ले सकेंगी भाग।
: समारोह में होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम में बच्चे नहीं होंगे शामिल।
: जिला स्तरीय समारोह में पढ़ा जाएगा राज्यपाल का संदेश।
: शहीद के परिवार के सदस्यों को आमंत्रित करने के साथ ही उन्हें सम्मान के साथ कार्यक्रम में बिठाए जाए।
: भारत रत्न, पद्म भूषण, पद्म विभूषण, पद्मश्री पुरस्कार, अर्जुन पुरस्कार विजेता, परमवीर चक्र, महावीर चक्र विजेता, शौर्य चक्र विजेताओं के साथ राष्ट्र और राज्य स्तर पर पुरस्कृत शिक्षकों को किया जाए समारोह में आमंत्रित।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned