जयपुर में झमाझम बारिश,खुली प्रशासन के दावों की पोल

बदला मौसम का मिजाज
गर्मी व उमस से परेशान लोगों को मिली राहत
कल तीन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

By: Rakhi Hajela

Updated: 07 Jul 2020, 08:24 PM IST


प्रदेश की राजधानी जयपुर में सावन माह की पहली बारिश ने सभी को तरबतर कर दिया है। मंगलवार को दोपहर में शुरू हुई तेज बारिश से मौसम का मिजाज तो बदला ही साथ कई जगहों पर सड़कें लबालब भर गईं जिसकी वजह से वाहन चालकों को भारी समस्याओं को सामना करना पड़ा। राजधानी में तेज बारिश का दौर तकरीबन आधा घंटे से भी अधिक समय तक जारी रहा। वहीं बूंदाबांदी का दौर शाम तक जारी रहा। जिससे गर्मी व उमस से परेशान हो रहे लोगों ने राहत की सांस ली। तेज हवाओं के साथ 22 गोदाम, लालकोठी, सी.स्कीम, सहकार मार्ग, ज्योति नगर सहित अन्य क्षेत्रों में बारिश हुई।
शहर के प्रतापनगर,अजमेर रोड, भांकरोटा, हरमाड़ा, झोटवाड़ा, सी स्कीम, सोडाला, वैशाली नगर, मानसरोवर, जेएलएन माग, मालवीय नगर, झालाना, ट्रांसपोर्ट नगर, गोपालपुरा, टोंक रोड और परोकोटा सहित पूरी राजधानी में जमकर बारिश हुई। राजधानी समेत आसपास के इलाकों में अचानक बारिश से तापमान में हल्की गिरावट दर्ज की गई। राजधानी जयपुर का तापमान ३६.९ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जयपुर में ०.६ मिमी बारिश दर्ज की गई।
कई जगह बिजली गुल
बदले मौसम के साथ ही बारिश के कारण राजधानी के कई इलाकों में बिजली गुल हो गई। इनमें स्वेज फार्म, मालवीय नगर, टोंक रोड, वैशाली नगर जैसे क्षेत्र शामिल हैं। करीब 30 से 50 मिनट तक ज्यादातर इलाकों में बिजली सप्लाई बाधित रही।
खुली प्रशासन के दावों की पोल
मानसून की इस अच्छी बारिश से प्रशासन के दावों की भी पोल खोल कर रख दी। शहर में कई स्थानों पर घरों और दुकानों में भी पानी घुस गया। वहीं करतारपुरा नाला भी लबालब हो गया। वहीं अजमेर रोड, गंगा जमुना पेट्रोल पंप, गुर्जर की थड़ी इलाका, धर्म कांटा न्यू सांगानेर रोड सहित बाकी जगहों पर भी एक से दो फीट तक पानी भर गया। जिससे वहां से निकलने वाले वाहन चालकों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। कई वाहन पानी के बीच फंस गए और लोग सड़क किनारे बारिश से बचने के लिए शेल्टर की तलाश करते नजर आए। लोगों ने बस स्टैंड के शेल्टर के नीचे सहारा लिया। बारिश हल्की होने के बाद जब लोग सड़क पर निकले तो पानी भरा होने के कारण वाहन चलाने में काफी परेशानी हुई और कई जगह जाम भी लग गया।
तीन जिलों में भारी बारिश की संभावना
मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक मुताबिक मानसून अक्ष रेखा गुजरात तट से सौराष्ट्र पर बने अति कम दबाव के क्षेत्र से इंदौर डाल्टनगंज और बांकुड़ा से गुजर रही है। अगले ४८ घंटों तक पूर्वी राजस्थान में अधिकतर स्थानों पर जबकि पश्चिमी राजस्थान में कहीं कहीं हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। ८ जून को धौलपुर, करौली, सवाई माधोपुर जिलों में एक दो स्थानों पर भारी बरसात हो सकती है जबकि चूरू, बाड़मेर, बीकानेर, जोधपुर, जैसलमेर, जालौर, नागौर, पाली, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ जिलों में कहीं कहीं पर ३० से ४० किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवा चल सकती है।
सुस्त पड़ेगी मानूसन की रफ्तार
९ जुलाई से मानसून अक्ष रेखा के हिमालय की तरफ उत्तर दिशा में खिसकने से राज्य में बारिश की रफ्तार सुस्त पड़ जाएगी। एेसे में ९ से १३ जुलाई तक पश्चिमी राजस्थान में छुटपुट बारिश तो पूर्वी राजस्थान में कहीं कहीं हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।
इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट
८ जुलाई: धौलपुर, करौली, सवाई माधोपुर जिलों में एक दो स्थानों पर

प्रदेश के विभिन्न शहरों का अधिकतम और न्यूनतम तापमान
अजमेर 36.0 24.0
जयपुर 36.9 26.2
कोटा 35.2 26.8
डबोक 34.0 25.4
बाड़मेर 40.1 28.8
जैसलमेर 39.1 30.1

जोधपुर 37.8 27.0
बीकानेर 40.1 29.7
चूरू 40.0 28.2
श्रीगंगानगर 39.5 28.8

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned